5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी शुरू, अंबानी और अडानी की कंपनियां आमने-समाने

Edited By jyoti choudhary,Updated: 26 Jul, 2022 11:04 AM

auction of 5g spectrum begins ambani and adani companies face to face

देश में 5जी स्पेक्ट्रम की ऑनलाइन नीलामी प्रक्रिया आज से शुरू हो गई है। इस नीलामी प्रक्रिया में रिलायंस जियो, भारती एयरटेल, वोडाफोन आईडिया और अडानी समेत समेत चार कंपनियां शामिल होंगी। इस दौरान 4.3 लाख करोड़ रुपए मूल्य के 72 गीगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम के...

नई दिल्लीः देश में 5जी स्पेक्ट्रम की ऑनलाइन नीलामी प्रक्रिया आज से शुरू हो गई है। इस नीलामी प्रक्रिया में रिलायंस जियो, भारती एयरटेल, वोडाफोन आईडिया और अडानी समेत चार कंपनियां शामिल होंगी। इस दौरान 4.3 लाख करोड़ रुपए मूल्य के 72 गीगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम के लिए बोली लगेगी। बोली प्रक्रिया मंगलवार की सुबह 10 बजे से शुरू हुई और शाम छह बजे तक जारी रहेगी। 

दो दिनों तक जारी रह सकती है 5जी स्पेट्रम नीलामी की प्रक्रिया 

दूरसंचार विभाग के सूत्रों के अनुसार 5जी स्पेक्ट्रम के लिए लगने वाली बोलियों और बोलीकर्ताओं की रणनीति पर यह निर्भर करेगा कि नीलामी प्रक्रिया में कितना समय लगेगा। जानकारों के मुताबिक नीलामी प्रक्रिया दो दिनों तक जारी रह सकती है। 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी के दौरान मौजूदा दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनियों रिलायंस जियो, भारती एयरटेल और वोडाफोन आइडिया के साथ टेलीकॉम सेक्टर में पहली बार उतरी गौतम अडानी की कंपनी अडानी एंटरप्राइजेज भी बोली लगाएगी। 

दूरसंचार विभाग को एक लाख करोड़ रुपये का राजस्व मिलने का अनुमान

दूरसंचार विभाग को देश में पहली बार हो रही 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी से 70,000 करोड़ रुपए से लेकर 1,00,000 करोड़ रुपए तक का राजस्व मिलने का अनुमान है। 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी प्रक्रिया पूरी होने के बाद देश में 5जी सेवाएं शुरू होने का रास्ता साफ हो जाएगा। जानकारों के मुताबिक स्पेक्ट्रम की नीलामी के बाद इस साल के अंत देश में 5जी सेवाएं शुरू हो सकती हैं। तकनीकी विशेषज्ञों के मुताबिक 5जी सेवाएं देश में वर्तमान समय में मौजूद 4जी सेवाओं की तुलना दस गुना तक तेज होगी। 5जी सेवा की कमर्शियल लांचिंग के बाद देश में इंटरनेट इस्तेमाल करने का अनुभव बहुत हद तक बदल जाएगा। स्वास्थ्य सेवाओं के क्षेत्र में भी 5जी सेवाओं की शुरुआत से एक नई क्रांति आने की उम्मीद है। 

5जी के लिए रिलायंस जियो, अडानी एंटरप्राइजेस और एयरटेल में लगेगी होड़ 

5जी स्पेट्रम की नीलामी के दौरान रिलायंस जियो और एयरटेल के बीच होड़ देखने को मिल सकती है। दोनो ही कंपनियां यह दावा कर चुकी है कि वह 5जी सेवाओं को जनता तक पहुंचाने में अग्रणी रहेंगी। उम्मीद है जियो नीलामी के दौरान बड़ी बोली लगा सकता है। एयरटेल भी इस होड़ में आगे रहने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ना चाहेगा। वहीं, वोडाफोन-आइडिया और अडानी एंटरप्राइजेज की तरफ से नीलामी के दौरान सीमित रूप से बोली लगाने की उम्मीद है। बाजार के जानकार मानते हैं कि 5 जी स्पेक्ट्रम की नीलामी के दौरान आक्रामक ढंग से बोलियां लगाईं जाएंगी इस बात की उम्मीद कम है, क्योंकि मैदान में सिर्फ चार कंपनियां ही हैं।

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!