आम बजट में वृद्धि को बढ़ावा देने, राजकोषीय मजबूती पर जोर की उम्मीद: बीओबी रिपोर्ट

Edited By jyoti choudhary, Updated: 29 Jan, 2022 11:03 AM

budget expected to boost growth focus on fiscal consolidation bob report

बैंक ऑफ बड़ौदा (बीओबी) ने शुक्रवार को जारी अपनी ताजा आर्थिक शोध रिपोर्ट में कहा कि वित्त वर्ष 2022-23 के आम बजट में वृद्धि को बढ़ावा देना, राजकोषीय मजबूती हासिल करने और खपत को बढ़ाने पर जोर होने की उम्मीद है। रिपोर्ट में यह भी कहा गया कि बजट में कर...

कोलकाताः बैंक ऑफ बड़ौदा (बीओबी) ने शुक्रवार को जारी अपनी ताजा आर्थिक शोध रिपोर्ट में कहा कि वित्त वर्ष 2022-23 के आम बजट में वृद्धि को बढ़ावा देना, राजकोषीय मजबूती हासिल करने और खपत को बढ़ाने पर जोर होने की उम्मीद है। रिपोर्ट में यह भी कहा गया कि बजट में कर रियायतों में कुछ बदलाव हो सकता है, जबकि उत्पादन से जुड़ी प्रोत्साहन (पीएलआई) योजनाओं के तहत निवेश बढ़ाने के लिए अधिक आवंटन किया जा सकता है।

इस रिपोर्ट के मुताबिक, बांड बाजार में उतार-चढ़ाव से बचने के लिए सकल उधारी को 12,000-13,000 अरब रुपए की सीमा में बनाए रखा जाएगा। इस तरह वित्त वर्ष 2022-23 में राजकोषीय घाटा 6-6.25 प्रतिशत के बीच रहने की उम्मीद है।

बीओबी की शोध रिपोर्ट के मुताबिक वर्तमान कीमतों पर सकल घरेलू उत्पाद में 13 प्रतिशत की बढ़ोतरी के साथ केंद्र का शुद्ध राजस्व 12.2 प्रतिशत और खर्च 4.5 प्रतिशत बढ़ सकता है। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि अगले वित्त वर्ष में अपेक्षित विनिवेश आय लगभग 750 अरब रुपए हो सकती है।
 

Related Story

Trending Topics

Ireland

221/5

20.0

India

225/7

20.0

India win by 4 runs

RR 11.05
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!