खेलो इंडिया के माध्यम से तराशे जाएंगे नए अर्जुन

Edited By Ajay Chandigarh, Updated: 25 May, 2022 08:51 PM

country s youth brigade will be ready for olympics

हरियाणा में अगले माह होने वाले खेलो इंडिया यूथ गेम्स की तैयारियों को देखकर ऐसा लग रहा है कि ये खेल भविष्य में ओलिम्पिक मैडल्स की नींव साबित होंगे क्योंकि इनके माध्यम से कश्मीर से कन्याकुमारी, अंडेमान-निकोबार से कच्छ के रण तक उत्तरी-पूर्वी राज्यों से...

चंडीगढ़,(बंसल): हरियाणा में अगले माह होने वाले खेलो इंडिया यूथ गेम्स की तैयारियों को देखकर ऐसा लग रहा है कि ये खेल भविष्य में ओलिम्पिक मैडल्स की नींव साबित होंगे क्योंकि इनके माध्यम से कश्मीर से कन्याकुमारी, अंडेमान-निकोबार से कच्छ के रण तक उत्तरी-पूर्वी राज्यों से आई युवा ब्रिगेड में से नए-नए अर्जुन उभरकर आएंगे, जिसका लक्ष्य अर्जुन की तरह ही चिडिय़ा की आंख पर सटीक निशाना लगाना होगा। 

 


हरियाणा का जिला पंचकूला अब खेलो इंडिया यूथ गेम्स के सफल क्रियान्वयन के लिए पूरी तरह से तैयार है। जहां एक ओर ताऊ देवी लाल खेल परिसर को अंतर्राष्ट्रीय स्तर की खेल स्टेडियम का रूप दिया गया है तो वहीं दूसरी ओर इन खेलों की तैयारियों के अग्रदूत सभी राज्यों से हरियाणा में आए ‘शैफ-द-मिशन’ ने भी तैयारियों पर अपनी संतुष्टि प्रकट की है। इन खेलों के लिए हरियाणा ने ताऊ देवीलाल खेल परिसर, पंचकूला के साथ-साथ अम्बाला, शाहबाद, चंडीगढ़ व दिल्ली पांचों स्थानों के खेल स्टेडियमों में बेहतर से बेहतर इंफ्रास्ट्रक्चर, खेल उपकरणों व किट्स के साथ-साथ खिलाडियों व उनके साथ आने वाले सपोॄटग स्टाफ के लिए रहने-ठहरने की व्यवस्था उपलब्ध करवाई है। 

 


-देश को एक सूत्र में पिरोने का कार्य करते हैं ऐसे खेल
उल्लेखनीय है कि इन खेलों में देश के 28 राज्यों व 8 केंद्र शासित प्रदेशों के 8000 से अधिक खिलाड़ी भाग लेंगे। ऐसे खेल जहां एक ओर देश को एक सूत्र में पिरोने का कार्य करते हैं तो वहीं दूसरी ओर इनके माध्यम से नई-नई प्रतिभाओं पर खेल विशेषज्ञों की नजर भी पड़ेगी, जो उन्हें ओलिम्पिक खेलों के लिए राह दिखाएंगे। इन खेलों में अंडेमान निकोबार, दादरा नगर हवेली, दमन व दीव, गोवा, लद्दाख, नागालैंड, त्रिपुरा, मिजोरम, मेघालय जैसे राज्यों के स्कूली बच्चे आएंगे जिन्हें प्रदेश के अंतर्राष्ट्रीय स्तर की तैयारी वाले खेल स्टेडियमों में अपनी प्रतिभा को दिखाने का अवसर मिलेगा। इसके अलावा, वे प्रदेश की संस्कृति की जानकारी के साथ-साथ यहां उपलब्ध बेहतर खेल सुविधाओं का लाभ भी उठाएंगे। 

 


राहगिरी कार्यक्रमों में न केवल खिलाड़ी बल्कि हर आयु वर्ग के लोग जुड़ रहे हैं
खेलो इंडिया के मस्कट रहे जया-विजय के बाद अब हरियाणा के मस्कट ‘धाकड़’ व खेल मशाल ने पूरे प्रदेश को इन खेलों के लिए राहगिरीमय बना दिया है, जिसकी शुरूआत 10 मई, 2022 को गुरुग्राम से स्वयं मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने की थी। अब यह खेल मशाल पूरे प्रदेश में घूम रही है और बड़ी संख्या में लोग राहगिरी कार्यक्रमों में भाग ले रहे हैं। 

 


-मुख्यमंत्री ने खेलो इंडिया यूथ गेम्स को देखने के लिए सभी राज्यों के खेल मंत्रियों व खेल प्रेमियों को दिया न्यौता
उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री की इच्छा है खिलाडिय़ों की हौसलाअफजाई के लिए सभी राज्यों के खेल मंत्रियों के अलावा देशभर के खेल प्रेमी भी हरियाणा आएं। इसलिए उन्होंने खेलो इंडिया यूथ गेम्स को देखने के लिए सभी राज्यों के खेल मंत्रियों को निमंत्रण भेजने के साथ खेल प्रेमियों से भी आह्वïान किया है कि वे अधिक से अधिक संख्या में इन खेलों को देखने आएं।
 

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!