हरियाणा के गांवों के जीवन में ही रचा-बसा है एडवैंचर : मनोहर लाल

Edited By Ajay Chandigarh,Updated: 14 Jun, 2022 07:23 PM

establishment of milkha singh adventure club to promote adventure

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश में एडवैंचर को भी सामान्य खेल की तर्ज पर आगे बढ़ाने के लिए जो भी इंफ्रास्ट्रक्चर की आवश्यकता होगी, उसे पूरा किया जाएगा ताकि हमारे युवा अन्य खेलों की तरह एडवैंचर खेलों में भी अपनी धमक दिखा सकें। इसके...

चंडीगढ़,(बंसल): हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश में एडवैंचर को भी सामान्य खेल की तर्ज पर आगे बढ़ाने के लिए जो भी इंफ्रास्ट्रक्चर की आवश्यकता होगी, उसे पूरा किया जाएगा ताकि हमारे युवा अन्य खेलों की तरह एडवैंचर खेलों में भी अपनी धमक दिखा सकें। इसके साथ ही एडवैंचर स्पोटर््स के जरिए हरियाणा में पर्यटन व्यवसाय को बढ़ावा दिया जाएगा। मुख्यमंत्री मंगलवार को यहां स्कूल शिक्षा विभाग एवं एडवैंचर क्लब द्वारा स्कूली विद्याॢथयों के पर्वतारोहण दल को रवाना करते समय बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि हरियाणा के गांवों के जीवन में एडवैंचर रचा बसा है। इसलिए युवाओं को ट्रेङ्क्षनग देकर एडवैंचर स्पोटर््स के व्यवसाय में लाया जाएगा। उन्होंने कहा कि 1000 युवाओं को एडवैंचर प्रशिक्षण देकर काबिल बनाया जाएगा।
अरावली की पहाडिय़ों में भी ट्रैकिंग के रास्तों की तलाश की जा रही 


मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा में एडवैंचर गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए मोरनी में सरदार मिल्ख सिंह क्लब की स्थापना की गई है जिससे इस क्षेत्र में कई गतिविधियां संचालित की जा रही हैं। इसके अलावा युवाओं के लिए अरावली की पहाडिय़ों में भी ट्रैकिंग के रास्तों की तलाश की जा रही है ताकि दक्षिण हरियाणा में भी एडवैंचर स्ट्रक्चर बढ़ाया जा सके। उन्होंने कहा कि सरकार युवाओं की उम्मीदों पर खरा उतरने के लिए ऐसे कार्यक्रम लेकर आ रही है जिससे वे आत्मनिर्भर और स्वावलंबी बनकर देश को प्रगति की ओर लेकर जा सकें। 

 


सेवा, सुरक्षा और स्पोटर््स में नंबर वन हरियाणा
मुख्यमंत्री ने कहा कि सेवा, सुरक्षा और स्पोर्ट्स में हरियाणा नंबर वन पर है। देश की 2 फीसदी आबादी के बाद भी हरियाणा के युवाओं ने 19 फीसदी से अधिक गोल्ड मैडल जीते हैं। हरियाणा खेलों में देश की राजधानी है। इसका परिणाम खेलो इंडिया में देखने को मिला है और हरियाणा देशभर में प्रथम स्थान पर रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि शिक्षा के साथ युवा खेल एवं अन्य गतिविधियों में भी भाग ले रहे हैं। 

 


स्कूली विद्याॢथयों के लिए पर्वतारोहण अनूठी योजना
प्रदेश के स्कूली विद्याॢथयों के लिए पर्वतारोहण की एक अनूठी योजना चलाई गई है। इसके तहत जो विद्यार्थी पहाड़ों की सबसे ऊंची 10 चोटियों में से किसी एक की चढ़ाई करेगा, उसे 5 लाख रुपए की राशि पुरस्कार के रूप में दी जाती है। उन्होंने कहा कि सभी पर्वतारोही लक्ष्य साध कर आगे बढ़ें। पर्वतारोहियों को हरियाणा में सबसे ज्यादा आॢथक सहायता दी जा रही है।

 


हरियाणा के धाकड़ बनने का दिया संदेश
मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बार पर्वतारोही दल में 100 विद्यार्थी भाग ले रहे हैं। इनमें 22 दिव्यांग हैं। उन्होंने पर्वतारोहण वाले विद्याॢथयों से सीधा संवाद करते हुए उनके समक्ष आने वाली चुनौतियों और समस्याओं के बारे में जाना। उन्होंने पर्वतारोही दल के सामने कोई कठिनाई आने पर उसे हिम्मत से पार करने का संदेश दिया। उन्होंने कहा कि एक बार आगे बढ़ जाएंगे तो आप धाकड़ बन जाएंगे। हरियाणा में शरीर, बुद्धि और बल से आगे बढऩे वाले को धाकड़ कहा जाता है। इस पर विद्याॢथयों ने खुशी का इजहार किया। मुख्यमंत्री ने कैथल की संजली, गुरुग्राम की मंजु, सोनीपत के जयदीप और श्रवण व वाणी बाधित मुस्कान व गौरव से सीधी बातचीत की और अपने स्वैच्छिक कोष से एडवैंचर क्लब को 5 लाख रुपए देने की घोषणा की। 

 


विद्याॢथयों ने बढ़ाया सरकार का साहस: कंवर पाल
हरियाणा के शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने कहा कि 13 दिन के पर्वतारोहण कार्यक्रम पर स्कूल एजुकेशन एकेडमिक सैल की ओर से 40 लाख रुपए की राशि खर्च की जाएगी। स्कूली विद्याॢथयों ने हर क्षेत्र में अच्छे परिणाम दिए हैं। सुपर 100 कार्यक्रम की बेहतर सफलता के बाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने इस कार्यक्रम को सुपर 500 कर चार और स्थानों से शुरू कर दिया है। इसके अलावा 10वीं से 12वीं के विद्याॢथयों को टैबलेट देने का कार्य किया है ताकि हरियाणा के सरकारी स्कूलों में पढऩे वाले विद्यार्थी नवीनतम तकनीक में पीछे न रहें। उन्होंने कहा कि रोमाचंक गतिविधियां विद्यार्थी जीवन का हिस्सा बनने से उनका व्यक्तित्व निखरता है। इस पर्वतारोहण दल में जाने वाले 6111 मीटर की ऊंचाई पर लाहौल के भरतपुर युनाम पर्वत की चढ़ाई करेंगे। इस मौके पर एडवैंचर क्लब के कार्यकारी अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्य सचिव हरियाणा एस.सी. चौधरी व निदेशक मौलिक स्कूल शिक्षा डा. अंशज सिंह ने भी अपने विचार रखे। 

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!