देश

राज्यसभा में कांग्रेस को तुरंत नहीं मिलेगी ताकत

राज्यसभा में कांग्रेस को तुरंत नहीं मिलेगी ताकत

जालंधर(नरेश कुमार): मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनाव नतीजों से कांग्रेस भले ही गद्गद् हो लेकिन राज्यसभा में पार्टी को इसका फायदा तुरंत नहीं मिलेगा। इन राज्यों में चुने गए कांग्रेस के विधायकों के दम पर पार्टी 2020 और 2022 में होने वाले राज्यसभा चुनावों में मजबूती हासिल कर पाएगी। फिलहाल राज्यसभा में कांग्रेस के 50 सदस्य हैं और वह राज्यसभा में भाजपा (73 सीट) के बाद दूसरे नंबर की पार्टी है। इन 3 राज्यों की विधानसभा में जीत के बाद पार्टी को राज्यसभा में निश्चित तौर पर इसका फायदा होगा।

2019 में असम से 2 और तमिलनाडु से राज्यसभा के 6 सदस्य रिटायर्ड होंगे जबकि 2020 में छत्तीसगढ़ से 2, मध्य प्रदेश और राजस्थान से 3-3 राज्यसभा सदस्य रिटायर्ड होंगे। इनमें से असम और तमिलनाडु में कांग्रेस के पास राज्यसभा चुनाव लड़ने के लिए जरूरी विधायकों की संख्या नहीं है लेकिन राजस्थान और मध्य प्रदेश व छत्तीसगढ़ में होने वाले राज्यसभा चुनावों में कांग्रेस भाजपा को तगड़ी चुनौती देगी।

कब होंगे राज्यसभा चुनाव

वर्ष चुनाव सीटें
2020 छत्तीसगढ़ 2
  मध्य प्रदेश 3
  राजस्थान 3
2022 राजस्थान 4


2019 कौन-कौन रिटायर्ड होगा 

राज्य रिटायर्ड होने वाले सदस्य
असम मनमोहन सिंह, सेंटीयूस कुजर
तमिलनाडु के.आर. अर्जुनन, कनिमोझी, डाक्टर आर. लक्ष्मणन, डाक्टर वी. मैत्रेयन, डी. राजा, टी. रथिनवाल

Related News