राज ठाकरे के दावे को संजय राउत ने नकारा, पूछा- आपको अयोध्या जाने से कौन रोक सकता है?

Edited By rajesh kumar, Updated: 22 May, 2022 06:56 PM

criticism of mns chief for reasons for postponement of ayodhya yatra

शिवसेना सांसद संजय राउत ने रविवार को महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) प्रमुख राज ठाकरे के इस दावे की रविवार को आलोचना की कि उन्होंने अयोध्या का दौरा इसलिए टाला क्योंकि उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं को कानूनी जाल में फंसाने की साजिश रची जा रही है।

 

नेशनल डेस्क: शिवसेना सांसद संजय राउत ने रविवार को महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) प्रमुख राज ठाकरे के इस दावे की रविवार को आलोचना की कि उन्होंने अयोध्या का दौरा इसलिए टाला क्योंकि उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं को कानूनी जाल में फंसाने की साजिश रची जा रही है। राउत ने कहा कि इस तरह की टिप्पणियां हताशा में की गई हैं। शिवसेना के मुख्य प्रवक्ता राउत ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए जानना चाहा, “आपको अयोध्या जाने से कौन रोक सकता है? क्या साजिश हो सकती है? राउत ने दावा किया कि यह "भाजपा प्रायोजित" यात्रा थी और उत्तर प्रदेश में भाजपा का ही शासन है।

आपको कौन फंसाएगा?
राज्यसभा सदस्य ने कहा, “अगर भाजपा के एक सांसद का विरोध है तो उस विरोध को नज़रअंदाज़ करते हुए आगे बढ़ो। आपको कौन फंसाएगा? इस तरह की सभी टिप्पणियां हताशा में की गई हैं। (ऐसी टिप्पणियों पर)परामर्श और उपचार की जरूरत है।” गौरतलब है कि राज ठाकरे को उत्तर प्रदेश के भाजपा सांसद बृज भूषण शरण सिंह के कड़े विरोध का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने चेतावनी दी है कि मनसे प्रमुख को तब तक अयोध्या में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा जब तक कि वह पूर्व में उत्तर भारतीयों को "अपमानित" करने के लिए सार्वजनिक रूप से माफी नहीं मांग लेते।

जानें पुणे रैली में क्या बोले राज ठाकरे
पुणे में रविवार को एक रैली में, ठाकरे ने दावा किया कि अयोध्या की पांच जून को होने वाली उनकी प्रस्तावित यात्रा को लेकर उपजा राजनीतिक विवाद, उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं को कानूनी जाल में फंसाने की चाल है और इसलिए, उन्होंने उत्तर प्रदेश के शहर की अपनी यात्रा को स्थगित करने का फैसला किया। ठाकरे ने यह भी कहा कि एक जून को उनकी सर्जरी होनी है और इससे ठीक होने के बाद वह फिर एक जनसभा को संबोधित करेंगे। मनसे अध्यक्ष ने कहा कि जब उन्होंने अपनी अयोध्या यात्रा टालने का संदेश पोस्ट किया था, तो कई लोग खुश हुए थे जबकि कुछ को यह पसंद नहीं आया। उन्होंने दावा किया, “ मैं उन चीजों को देख रहा था जिन पर अयोध्या यात्रा की घोषणा के बाद चर्चा हो रही थी। बाद में मुझे पता चला कि यह एक जाल है। इसकी शुरुआत महाराष्ट्र में हुई।”

Related Story

Test Innings
England

284/10

378/3

India

416/10

245/10

England win by 7 wickets

RR 4.63
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!