दीपावली पर करें हवन, मिलेगी शनिदेव की प्रसन्नता व लक्ष्मी कृपा

  • दीपावली पर करें हवन, मिलेगी शनिदेव की प्रसन्नता व लक्ष्मी कृपा
You Are HereDharm
Friday, October 13, 2017-10:49 AM

दीपावली का सप्ताह शुरू होने से पूर्व ही दीपावली के दिन होने वाली लक्ष्मी पूजा को लेकर इस पूजा की धार्मिक मान्यता और महत्व का सिलसिला शुरू हो जाता है। पंजाब केसरी आपको इस सप्ताह दीवाली पूजन से जुड़ी विभिन्न धार्मिक मान्यताओं के बारे में बताएगा। आज हम आपको दीवाली के दिन हवन के महत्व के बारे में बताएंगे।

 
दीपावली के दिन घर में विधि विधान से हवन करने पर शनिदेव का प्रकोप शांत होता है और महालक्ष्मी जी शीघ्र प्रसन्न हो जाती हैं। मां लक्ष्मी धन और शनि देव स्थायित्व के कारक माने गए हैं।  दीवाली की रात तंत्र-साधना, सिद्धि, कामना पूर्ति के पूजा-अनुष्ठान के लिए सबसे खास मानी जाती है। इस संयोग में किए गए कार्य शुभ और स्थायी रहते हैं। दीपावली का पावन त्यौहार कार्य सिद्धी और आर्थिक समृद्धि सम्बन्धित प्रयोगों को सफलतापूर्वक सिद्ध करने के लिए अबुझ मुहूर्त है।

 
दीपावली के दिन शनिदेव की प्रसन्नता व लक्ष्मी जी की कृपा प्राप्ति हेतु महालक्ष्मी पूजन के मुहूर्त में हवन जरूर करें। शनि मंत्र और श्री यंत्र अभिषेक पंचामृत से करें।

 
हवन के लिए घर के आंगन में यज्ञ कुण्ड बनाएं अथवा किसी लोहे या तांबे के पात्र में आम की लकड़ियां, गोबर के कण्डे जलाकर तिल, शक्कर, घी, चावल मिलाकर 108 बार शनि महामंत्र और महालक्ष्मी मंत्र का उच्चारण करें और आहुति दें।

 
शनि महामंत्र
ऊँ नीलांजन समाभासं रवि पुत्रं यमाग्रजम्। छाया मार्तण्ड सम्भूतं तम् नमामि शनैश्चरम्।।

 
महालक्ष्मी मंत्र 
ऊँ श्रीं ह्यीं कमले कमलालये प्रसीद श्रीं ह्यीं श्रीं ऊँ महालक्ष्मये नम:।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You