खुद बनाएं अपना lucky charm, दुकान-ऑफिस या यात्रा पर निकलने से पूर्व करें उपाय

  • खुद बनाएं अपना lucky charm, दुकान-ऑफिस या यात्रा पर निकलने से पूर्व करें उपाय
You Are HereCuriosity
Tuesday, November 01, 2016-11:22 AM

कई बार बनते-बनते काम बिगड़ जाते हैं अथवा सफलता के आसार होने पर भी असफलता का मुंह देखना पड़ता है। शास्त्रों के अनुसार, घर से निकलते वक्त अथवा यात्रा के लिए जाना हो तो कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए। जिससे की आपकी यात्रा बिना किसी विध्न-बाधा के सफल हो जाए। ज्योतिशास्त्री कहते हैं की सप्ताह के प्रत्येक दिन के हिसाब से कुछ खास खाकर घर से निकला जाए तो सफलता सदा आपके साथ रहेगी। आपको कभी भी नाकामयाबी नहीं देखनी पड़ेगी।

 

सोमवार: आईने में अपना चेहरा देख कर घर से निकलें।
 
मंगलवार: गुड़ खाकर घर से निकलें।
 
बुधवार:  खड़ा धनिया खाकर घर से निकलें।
 
गुरुवार: जीरा खाकर घर से निकलें।
 
शुक्रवार: दही खाकर घर से निकलें।
 
शनिवार: अदरक खाकर घर से निकलें।
 
रविवार:  पान खाकर घर से निकलें।


चाहे रेल यात्रा हो, बस यात्रा हो या विमान यात्रा, प्रत्येक व्यक्ति किसी लम्बी यात्रा पर जाने से पूर्व यही कामना करता है कि उसकी यात्रा सफल और मंगलमय हो। यहां प्रस्तुत हैं भारत के विभिन्न राज्यों की चंद परम्पराएं जिनका पालन लोग आज फेसबुक और ट्विटर के युग में भी घर से निकलने से पूर्व करते हैं।


बिहार :  दूर्वा तथा अक्षत  
बिहार के कुछ हिस्सों में लम्बी यात्रा पर जाने से पूर्व संबंधित व्यक्ति को घर की कोई वृद्ध महिला दूर्वा (घास) तथा अक्षत (चावल) के कुछ दाने आशीर्वाद के रूप में साथ रखने के लिए देती है और उसकी मंगलमय यात्रा की कामना करती है।

 
दक्षिण भारत : जेब में नीम के कुछ पत्ते
दक्षिण भारतीय राज्यों में लम्बी यात्रा पर जाते समय लोग अपनी जेब में नीम के कुछ पत्ते रख लेते हैं। उनका मानना है कि ऐसा करने से उनकी यात्रा सुखद रहेगी और इसमें कोई बाधा नहीं आएगी।

 
पूर्वोत्तर : मछली का दर्शन 
यहां के निवासी यात्रा पर निकलने से पहले मछली का दर्शन करना पसंद करते हैं ताकि यात्रा के दौरान कोई बाधा उनके रास्ते में न आए।

 
उत्तर प्रदेश : दही में मीठा बूरा या चीनी
यहां के लोग घर से निकलने से पूर्व दही में मीठा बूरा या चीनी डाल कर खाते हैं। उनका मानना है कि ऐसा करने से उनकी यात्रा मंगलमय और सुखद होगी।

 
बंगाल : दही का तिलक
यहां के निवासी लम्बी यात्रा पर निकलते हैं तो उस समय घर की कोई वयोवृद्ध महिला उस व्यक्ति के माथे पर दही का तिलक लगाती है और यात्रा में सफलता का आशीर्वाद देती है।

 

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You