हर Thursday करें ये काम, बिना एक रुपया खर्च किए जिएंगे शान से

  • हर Thursday करें ये काम, बिना एक रुपया खर्च किए जिएंगे शान से
You Are HereDharm
Wednesday, November 02, 2016-7:47 AM

हिंदू धर्म शास्त्रों के अनुसार ज्ञान, बुद्धि, भाग्य अौर सुखी दांपत्य के लिए गुरु पूजा उत्तम उपाय है। बृहस्पतिवार के दिन देव गुरु बृहस्पति की पूजा करने से सभी मनोकामनाएं शीघ्र पूर्ण होती हैं, आपकी जिंदगी की दिशा और दशा बदल सकती है। गुरुवार के दिन गुरु बृहस्पति मंत्र का जाप करके पूजा करने से ज्ञान, बुद्धि अौर विवाह संबंधी समस्याअों को दूर कर सकते हैं। इनकी कृपा से कमाई और खर्च संतुलित रहता है। जिससे व्यक्ति सफलता के शिखर पर पंहुचता है।

 

पूजा विधि व मंत्र-
- गुरुवार के दिन स्नानआदि के बाद पीले वस्त्र पहनकर नव ग्रह या बृहस्पति मंदिर में जाकर देव गुरु की प्रतिमा को पंचामृत या केसर मिले दूध से स्नान करवाकर,चंदन, पीला वस्त्र, हल्दी से रंगी पीली जनेऊ व पीले फूल चढ़ाकर उनकी पूजा करके पीले रंग के व्यजनों का भोग लगाएं। 


- उसके बाद गाय के शुद्ध घी का दीपक व धूप लगाकर पीले रंग के आसन पर बैठकर गुरु बृहस्पति मंत्र का 108 बार जाप करने के बाद आरती करें।

 

ॐ बृं बृहस्पतये नम:।


- मंत्र जाप व पूजा के बाद पीले रंग की वस्तुएं जैसे- पीली दाल, वस्त्र, गुड़, सोना आदि दान करें।


सूर्य के बाद सबसे बड़ा ग्रह बृहस्पति है। बृहस्पति गुरु को दार्शनिक, आध्यात्मिक ज्ञान को निर्देशित करने वाला उत्तम ग्रह मानते है। देवगुरु के तंत्रोक्त मंत्रों को एक साथ जपने से धन-समृद्धि, ज्ञान, बुद्धि आदि सभी इच्छाएं जल्दी पूर्ण होती हैं। इन मंत्रों की जाप संख्या 19 हजार है। इनमें से किसी भी एक मंत्र का गुरुवार वाले दिन जाप करने से सभी प्रकार की मुश्किलें हल हो सकती हैं।

मंत्र:
ॐ ग्रां ग्रीं ग्रौं स: गुरवे नम:।
ॐ ऐं श्रीं बृहस्पतये नम:।
ॐ गुं गुरवे नम:।
ॐ बृं बृहस्पतये नम:।
ॐ क्लीं बृहस्पतये नम:।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You