Subscribe Now!

आज का गुडलक: देवी चंद्रघंटा देंगी प्रेम में सफलता

You Are HereNational
Saturday, January 20, 2018-7:04 AM

शनिवार दि॰ 20.01.18 को माघ शुक्ल तृतीय पर गुप्त नवरात्रि के अंतर्गत दुर्गा के तीसरे स्वरूप देवी चंद्रघंटा का पूजन किया जाएगा, शुक्र ग्रह पर अपना आधिपत्य रखने वाली चंद्रघंटा का स्वरूप चमकते तारे जैसा है। शास्त्रों ने चंद्रघंटा के रूप को युद्ध में डटे योद्धा की भांति बताया है व इन्हें वीर रस की देवी कहा है। इनका स्वरूप परम शक्तिशाली व वैभवशाली है। इनके मस्तक में घंटे के आकार का अर्धचंद्र है। सिंहरूड़ा देवी अनेक प्रकार के रत्नों से सुशोभित हैं व इन्होंने अपने 10 हाथों में खड्ग, अक्षमाला, धनुष, बाण, कमल, त्रिशूल, तलवार, कमण्डलु, गदा, शंख, बाण आदि अस्त्र धारण किए हैं।


कालपुरूष सिद्धांत के अनुसार शुक्र प्रधान दक्षिण-पूर्व दिशा की स्वामिनी देवी चंद्रघंटा का संबंध व्यक्ति की कुंडली के दूसरे व सातवें घर से है। अतः व्यक्ति के सुख, ऐश्वर्य, संपन्नता, प्रेम, कामनाएं, भोग व सुखी दांपत्य से है। इनकी पूजा गुलाबी के फूलों से कर इन्हें चावल की खीर का भोग लगाना चाहिए व श्रृंगार में इन्हें इत्र अर्पित करना चाहिए। इनकी साधना से उपासक को धन, ऐश्वर्य, प्रेम, सुखी दांपत्य व संपन्नता मिलती है। इनकी साधना से अविवाहिततों का शीघ्र विवाह होता है, प्रेम में सफलता मिलती है व धन की प्राप्ति होती है।


विशेष पूजन विधि: गुलाबी कपड़े पर देवी चंद्रघंटा का चित्र स्थापित कर विधिवत पूजन करें। नारियल तेल का दीप करें, गुलाब की अगरबत्ती करें, गुलाल चढ़ाएं, इत्र चढ़ाएं, गुलाब के फूल चढ़ाएं चावल की खीर का भोग लगाएं व स्फटिक की माला से इस विशेष मंत्र का 108 बार जाप करें। पूजन के बाद भोग प्रसाद रूप में कन्या को खिलाएं। 


पूजन मुहूर्त: रात 20:05 से रात 21:05 तक।
पूजन मंत्र: ॐ चण्डघंटायै देव्यै: नमः॥

 

आज का शुभाशुभ 
आज का अभिजीत मुहूर्त:
दिन 12:11 से दिन 12:53 तक।
आज का अमृत काल: रात 21:42 से रात 23:26 तक।
आज का राहु काल: प्रातः 09:55 से प्रातः 11:13 तक।
आज का गुलिक काल: प्रातः 07:18 से प्रातः 08:36 तक।
आज का यमगंड काल: दिन 13:50 से शाम 15:09 तक।


यात्रा महूर्त: दिशाशूल - पूर्व, राहुकाल वास - पूर्व। अतः आज पूर्व दिशा की यात्रा टालें।


आज का गुडलक ज्ञान
आज का गुडलक कलर:
बैंगनी।
आज का गुडलक दिशा: पश्चिम।
आज का गुडलक मंत्र: ॐ मदनसुन्दर्यै नमः॥
आज का गुडलक टाइम: प्रातः 08:40 से प्रातः 09;40 तक।


आज का बर्थडे गुडलक: शीघ्र विवाह हेतु देवी चंद्रघंटा पर चढ़े इत्र का नित्य प्रयोग करें।

 
आज का एनिवर्सरी गुडलक: प्रेम में सफलता हेतु देवी चंद्रघंटा पर चढ़ा श्वेत चंदन नित्य नाभि पर लगाएं।


गुडलक महागुरु का महा टोटका: धन की प्राप्ति हेतु देवी चंद्रघंटा पर चढ़े 7 कमलगट्टे तिजोरी में रखें।

आचार्य कमल नंदलाल
ईमेल: kamal.nandlal@gmail.com

Edited by:Aacharya Kamal Nandlal
अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You