Subscribe Now!

धरती के स्वर्ग में नहीं है बर्फबारी की संभावना

  • धरती के स्वर्ग में नहीं है बर्फबारी की संभावना
You Are HereNational
Monday, January 22, 2018-5:47 PM

श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर में जनवरी के अंत तक बर्फबारी की संभावना कम है। इस समय कश्मीर घाटी भले ही शीतलहर की चपेट में हो मगर बर्फबारी के आसार नहीं हैं। मौसम विभाग के विशेषज्ञों का पूर्वानुमान है कि घाटी में जनवरी के अंत तक बर्फबारी न के बराबर हो सकती है। मौसम विज्ञान विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि चिल्लाई कलां की अवधि में घाटी में हिमपात की संभावना नहीं है हालांकि छिटपुट जगहों पर वर्षा हो सकती है।


श्रीनगर में न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे 4.4 डिग्री नीचे, पहलगाम में शून्य से 5.7 डिग्री नीचे और गुलमर्ग में शून्य से 4.5 डिग्री नीचे दर्ज किया गया। जम्मू एवं कश्मीर में शून्य से 18.8 डिग्री कम तापमान के साथ कारगिल सबसे ठंडा रहा। लेह में तापमान शून्य से 14.3 डिग्री नीचे दर्ज किया गया। जम्मू शहर में तापमान सात डिग्री, कटरा में 7.5 डिग्री, बटोटे में 4.6 डिग्री, बनिहाल में शून्य से 0.3 डिग्री नीचे, भद्रवाह में 2.4 डिग्री और उधमपुर में 2.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 


बारिश न होने के चलते गेहूं की फसल के बर्बाद होने के कगार पर पहुंच गई है। मौसम विभाग ने मंगलवार को रियासत के कई इलाकों में बारिश और पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी होने की संभावना जताई है। स्नो एंड एवलांच स्टडी इस्टेब्लिशमेंट (सी.ए.एस.ई.) ने राज्य के विभिन्न जिलों में निम्न श्रेणी वाले हिमस्खलन की चेतावनी जारी की है। अगले 24 घंटों में हिमस्खलन की आशंका वाले क्षेत्रों में पुंछ, राजोरी, रियासी, रामबन, डोडा, किश्तवाड़, उधमपुर, अनंतनाग, कुलगाम, बडगाम, कुपवाड़ा, बांडीपुरा, गांदरबल, कारगिल और लेह जिलों का जिक्र किया गया है।
 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You