पैगंबर पर टिप्पणी: कुवैत में भारतीय चीजों का बायकॉट शुरू, भारत में भी #BycottQatarAirways ट्रेडिंग में

Edited By Seema Sharma,Updated: 07 Jun, 2022 03:39 PM

comment on prophet boycott of indian products started in kuwait

नुपूर शर्मा द्वारा पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी के बाद जारी विवाद के बीच भाजपा अब एक्शन में नजर आ रही है। दरअसल, पार्टी ने धार्मिक भावनाएं आहत करने वाले अपने ऐसे 38 नेताओं की लिस्ट तैयार है।

नेशनल डेस्क: नुपूर शर्मा द्वारा पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी के बाद जारी विवाद के बीच भाजपा अब एक्शन में नजर आ रही है। दरअसल, पार्टी ने धार्मिक भावनाएं आहत करने वाले अपने ऐसे 38 नेताओं की लिस्ट तैयार है। इनमें से 27 नेताओं को भड़काऊ और विवादास्पद बयान देने से बचने की नसीहत दी गई है। नुपूर शर्मा द्वारा एक टीवी शो में पैगंबर पर दिए बयान के बाद विवाद इतना बढ़ गया  कि मुद्दा अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर छा गया। कतर, ईरान और कुवैत जैसे देशों ने भारतीय राजदूतों को भी तलब किया। वहीं, खाड़ी के कई महत्वपूर्ण देशों ने इन टिप्पणियों की निंदा करते हुए अपनी कड़ी आपत्ति दर्ज कराई। 

 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Arab News (@arabnews)

कुवैत की सुपरमार्केट ने भारतीय प्रोडेक्ट्स पर लगाई रोक
कुवैत के कुछ सुपरस्टोर्स में भारत में बने सामानों की बिक्री भी रोक दी गई। कुवैत की एक सुपरमार्केट ने अपने शेल्फ से भारतीय उत्पादों को हटाना शुरू कर दिया है। कुवैत के अल-अरदिया कॉ-ऑपरेटिव सोसाइटी स्टोर के वर्कर्स भारतीय चाय और अन्य उत्पादों को स्टोर से हटा रहे हैं। कुवैत सिटी के बाहर स्थित एक सुपरमार्केट से चावल, मसालें और मिर्चियों को शेल्फ से हटाकर प्लास्टिक शीट्स में कवर कर दिया गया है। इन पर अरबी भाषा में लिखा है- हमने भारतीय उत्पादों को हटा दिया है।

 

भारत में ट्रेंड हुआ #BycottQatarAirways
खाड़ी देशों में भारतीय उत्पादों की बिक्री पर लगे बैन के बाद भारत में भी #BycottQatarAirways ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा है। सोशल मीडिया पर यूजर्स #BycottQatarAirways और  #NupurSharma के साथ ट्वीट कर रहे हैं। यूजर्स ने लिखा कि हम नुपूर शर्मा के साथ खड़े हैं। केंद्र सरकार को भी अपने लोगों के साथ खड़ा होना चाहिए। कई यूजर्स ने लिखा कि जब हिंदुओं की भावनाओं के साथ खिलवाड़ किया जाता है और हिंदू देवी-देवताओं पर कमेंट किए जाते हैं तब क्या कोई देश इस पर बोलता है। फिर भारत दूसरे देशों के दवाब में क्यों आ रहा है।

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!