नोट बदलने की चुनौती से निपटने के लिए बैंकों ने किए विशेष बंदोबस्त

  • नोट बदलने की चुनौती से निपटने के लिए बैंकों ने किए विशेष बंदोबस्त
You Are Herebanking
Wednesday, November 09, 2016-1:06 PM

नई दिल्ली: सरकार ने कहा है कि बैंक लोगों को 500 रुपए व 1000 रुपए के चलन से बाहर हो चुके नोट बदलने के मद्देनजर अब अतिरिक्त काउंटर खोलेंगे तथा बैंककर्मी एक्स्ट्रा टाइम देकर उन लोगों के नोट बदलने का काम करेंगे जिनके पास ये बड़े नोट अधिकता में हैं। आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांत दास ने यह जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि बैंक काउंटरों पर अफरा तफरी व भीड़ की संभावना को देखते हुए सरकार व रिजर्व बैंक ने नियंत्रण कक्ष स्थापित किए हैं ताकि किसी तरह के संकट को टाला जा सके। बैंक आज बुधवार को बंद रहेंगे। लोगों को 10 नवंबर से अपने मौजूदा अवैध 500 रुपए व 1000 रुपए के नोट बैंक और डाकघरों के जरिए बदलने की अनुमति होगी।

ग्राहक 30 दिसंबर तक 500 व 1000 रुपए के कितनी भी राशि के नोट अपने बैंक खातों में जमा करवा सकते हैं। इसके अलावा 24 नवंबर तक वे किसी भी बैंक अथवा डाकघर से 4000 रुपए प्रतिदिन तक अदला बदली कर सकेंगे इसके लिए उन्हें अपना  आईडी दिखाना होगा। 500 और 1000 रुपए के नोट जमा करने के लिए आईडी के रुप में आधार कार्ड, पैन कार्ड , वोटर आईडी कार्ड, बैंक आईडी, पोस्ट ऑफिस आईडी आदि का इस्तेमाल कर सकेंगे।

भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल ने कहा कि केंद्रीय बैंक ने 500 रुपए व 2000 रुपए के उच्च सुरक्षा मानकों वाले नए नोटों का विनिर्माण तेजी से शुरू कर दिया है। ये नोट पुराने नोट का स्थान लेंगे। 500 व 2000 रुपए के नए नोट 10 नवंबर से चलन में आ जाएंगे।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You