गणपति बप्पा को घर लाकर न करें ये काम, पुण्य के बजाय पाप के भागी बनेंगे

  • गणपति बप्पा को घर लाकर न करें ये काम, पुण्य के बजाय पाप के भागी बनेंगे
You Are HereCuriosity
Friday, September 02, 2016-11:37 AM
भाद्रपद मास की चतुर्थी तिथि को गणेश जी का पूजन करने से मनचाहा वरदान मिलता है। इस त्यौहार को देश भर में धूमधाम से मनाया जाता है। बाजे-गाजे के साथ बप्पा को घर में स्थापित किया जाता है। फिर दस दिन के बाद उनका विसर्जन कर दिया जाता है। गणेश जी को घर लाकर कुछ नियमों का पालन करना अनिवार्य रूप से करें अन्यथा पुण्य के बजाय पाप के भागी बनेंगे। 
 
न करें ये काम
 
* घर में लहसुन-प्याज का इस्तेमाल न करें।
 
* कुछ भी खाने से पहले बप्पा को भोग लगाएं। 
 
* परिवार का कोई न कोई सदस्य घर पर रहे, उन्हें अकेला छोड़ कर न जाएं। 
 
* जुआ न खेलें। 
 
* निंदा, चुगली करने से बचें।  
 
* किसी की बुराई न करें बल्कि उसके सद्गुणों की ओर ध्यान दें।
 
* चोरी करने से इस लोक में ही नहीं परलोक में भी दुख भोगना पड़ता है। इस बुरी आदत से दूर रहें।
 
* हिंसा से दूर रहें, मन में बुरे भाव आते हैं।
 
* संभोग न करें। ब्रह्मचार्य का पालन करें।
 
* क्रोध न करें, संयम से काम लें।
 
* झूठ नहीं बोलना चाहिए। एक झूठ को छुपाने के लिए सौ झूठ बोलने पड़ते हैं।
 
* मांस-मदिरा का सेवन न करें।
 
करें ये काम
* सुबह और संध्या के समय गणेश चतुर्थी की कथा, गणेश पुराण, गणेश चालीसा, गणेश स्तुति, श्रीगणेश सहस्रनामावली, गणेश जी की आरती, संकटनाशन गणेश स्तोत्र का पाठ करें। अंत में गणेश मंत्र 'ॐ गणेशाय नम:' अथवा 'ॐ गं गणपतये नम: का अपनी श्रद्धा के अनुसार जाप करें।
 

* मोदक का भोग अवश्य लगाएं। 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You