आज का गुडलक- धन के नाथ दूर करेंगे जीवन से गरीबी का नामोनिशान

You Are HereDharm
Sunday, October 22, 2017-7:12 AM

आज रविवार दी॰ 22.10.17 कार्तिक शुक्ल की तृतीया तिथि पर भगवान श्रीकृष्ण के श्रीनाथ स्वरूप का पूजन श्रेष्ठ रहेगा। शास्त्रों में श्रीनाथजी का स्वरूप कृष्ण की 7 वर्ष की आयु का चित्रण है। श्रीकृष्ण भक्ति के अनेक मार्गों में से एक पुष्टि मार्ग में श्रीनाथजी की आराधना की जाती है, जिसमें उन्होंने बाएं हाथ से गोवर्धन उठा रखा है व उनका दायां हाथ कमर पर है। श्रीनाथजी का बायां हाथ सन् 1410 में गोवर्धन पर्वत पर प्रकट हुआ था व सन् 1479 में श्रीवल्लभाचार्यजी के जन्म के साथ ही श्रीनाथजी के कमल मुख का प्राकट्य हुआ। मान्यतानुसार सन् 1493 में श्रीवल्लभाचार्य को अर्धरात्रि में श्रीनाथजी की मूर्ति के सबसे पहले दर्शन हुए थे। अतः श्रीनाथ जी कलयुग के कृष्ण माने गए हैं। कलयुगी संसार में पूजन हेतु भी धन चाहिए। यहां तक की स्वयं लक्ष्मी अर्थात श्री के पूजन हेतु भी धन जरूरी है। इसी कारण स्वयं श्रीकृष्ण ने संसार को धन की महत्वता समझाई है। कृष्ण का एक नाम श्रीनाथ है अर्थात धन के नाथ। श्रीनाथ के विशेष पूजन व उपाय से जीवन से पैसे की तंगी दूर होती है, व्यक्ति को गरीबी से मुक्ति मिलती है तथा जीवन धन धान्य से परिपूर्ण होता है। 


विशेष पूजन विधि: भगवान श्री नाथ जी का विधिवत पूजन करें। केसर मिले घी से दीप करें, मोगरे की अगरबत्ती करें, लाल चंदन चढ़ाएं, लाल फूल चढ़ाएं, गुड़-घी का भोग लगाएं। एक दिन पूर्व तोड़े गए तुलसी अर्पित करें तथा इस विशेष मंत्र का 1 माला जाप करें। पूजन के बाद सेब की खीर किसी सुहागन को दान दें।


पूजन मुहूर्त: शाम 19:00 से रात 20:00 तक।


पूजन मंत्र: ॐ श्रीं मधुरा-नाथाय नमः॥

 

आज का शुभाशुभ
आज का अभिजीत मुहूर्त:
दिन 11:42 से दिन 12:27 तक।


आज का अमृत काल: अगले दिन प्रातः 03:25 से प्रातः 05:11 तक।


आज का राहु काल: शाम 16:16 से शाम 17:40 तक। 


आज का गुलिक काल: शाम 14:52 से शाम 16:16 तक। 


आज का यमगंड काल: दिन 12:05 से दिन 13:29 तक।


यात्रा मुहूर्त: आज दिशाशूल पश्चिम व राहुकाल वास उत्तर में है। अतः पश्चिम व उत्तर दिशा की यात्रा टालें।

 

आज का गुडलक ज्ञान
आज का गुडलक कलर:
केसरी।


आज का गुडलक दिशा: पूर्व।


आज का गुडलक मंत्र: ॐ श्रीशाय नमः ॥


आज का गुडलक टाइम: दिन 13:00 से दिन 14:0 तक।


आज का बर्थडे गुडलक: धन वृद्धि के लिए श्रीनाथ जी पर चढ़ी रोली से तिजोरी पर "श्रीँ" लिखें।


आज का एनिवर्सरी गुडलक: सांसारिक समृद्धि हेतु श्री नाथ जी पर चढ़ा सूजी का हलवा लाल गाय को खिलाएं। 


गुडलक महागुरु का महा टोटका: आर्थिक तंगी से मुक्ति हेतु तांबे के बर्तन में गेहूं भरकर श्री राधाकृष्ण मंदिर में चढ़ाएं।   


आज के गुडलक में बस इतना ही। कल गुडलक में आपसे फिर मुलाक़ात होगी और हम आपको बताएंगे कैसे नाग चतुर्थी पर शेषनाग करेंगे आपके घर परिवार और धन की सुरक्षा।  


आचार्य कमल नंदलाल
ईमेल: kamal.nandlal@gmail.com

Edited by:Aacharya Kamal Nandlal
यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You