इस स्थान पर घुसा कर रखा गया पैसा, पैदा करता है तनाव और परेशानियां

  • इस स्थान पर घुसा कर रखा गया पैसा, पैदा करता है तनाव और परेशानियां
You Are HereDharm
Tuesday, October 03, 2017-12:05 PM

दुनिया में हमें धन-दौलत इकट्ठा करने की नहीं, खुशहाली पैदा करने की जरूरत है। धन इंसान को सुख-सुविधा मुहैया कराकर खुशहाल बनाने का बस एक साधन है, वह अपने-आप में खुशहाली नहीं है। हम बेमतलब ही इसको बहुत बड़ा बना रहे हैं। यह सुनने में बेतुका लग सकता है लेकिन लोगों को जो चाहिए, वह दौलत नहीं है। हां दौलत सुविधाओं को पाने का साधन जरूर बन गई है। हर इंसान चाहता है कि उसकी जिंदगी खुशहाल हो। 


अगर आपका शरीर खुशहाल हो जाता है तो उसे सुख या आराम कहा जाता है। अगर आपका मन खुशहाल हो तो हम उसको शांति कहते हैं। अगर मन बहुत ज्यादा खुश हो तो उसे आनंद कहा जाता है। अगर खुशहाली आपकी जीवन-ऊर्जा तक पहुंचे तो हम उसको परमानंद कहते हैं। अगर आपके चारों ओर का माहौल खुशहाल हो जाता है तो हम उसको कामयाबी कहते हैं। आपको बस यही चाहिए। 


दरअसल, आपको जो चाहिए वह है सुख और आनंद और फिलहाल आपको यकीन है कि इस दुनिया में पैसा आपके लिए यह खरीद सकता है। पैसों के बल पर आप एक फाइव-स्टार होटल में ठहर सकते हैं लेकिन आप शरीर, मन, भावना या ऊर्जा के स्तर पर खुश नहीं हैं तो क्या आप अपने फाइव-स्टार होटल का मजा ले पाएंगे, नहीं। लेकिन अगर ये पांचों खुशहालियां हैं तो आप एक पेड़ की छाया का भी मजा ले सकते हैं।


क्या इसका मतलब यह है कि आपके पास दौलत नहीं होनी चाहिए? नहीं, ऐसी बात नहीं है लेकिन आपको अपनी प्राथमिकता समझनी चाहिए। अगर आपके अंदर खुशहाली है और आपके पास पैसा भी है तो आप बाहरी माहौल को बहुत खुशनुमा बना सकते हैं। बात बस इतनी है कि अगर पैसा आपकी जेब की जगह सिर में घुस जाए, वहां जगह बना ले तो तनाव और परेशानियां ही पैदा होंगी।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You