टीम इंडिया को पाकिस्तान के खिलाफ खेलने से मना करना चाहिए था: शिवसेना

  • टीम इंडिया को पाकिस्तान के खिलाफ खेलने से मना करना चाहिए था: शिवसेना
You Are HereNational
Tuesday, June 20, 2017-6:39 PM

मुंबई: शिवसेना ने आज कहा कि भारतीय क्रिकेट टीम को आईसीसी चैंपियंस ट्राफी में पाकिस्तान के खिलाफ खेलने से मना कर देना चाहिए था जिससे हमारे क्रिकेटरों को देश की जनता से सराहना मिलती। शिवसेना की इन टिप्पणियों से दो दिन पहले चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान ने भारत को 180 रन से हराकर लंदन में प्रतिष्ठित ट्राफी जीती थी। शिवसेना ने कहा कि जो लोग आईसीसी टूर्नामेंट में भारत की हार से दुखी हैं उन्हें उसी दिन भारतीय हाकी टीम की पाकिस्तान पर जीत का जश्न मनाना चाहिए था।  शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में एक संपादकीय में आश्चर्य जताया कि हमारे तथाकथित राष्ट्रवादियों ने हमारे क्रिकेटरों की निंदा की, उनके पुतले फूंके और अपने टीवी सेट तोड़ दिए क्योंकि हमारी टीम पाकिस्तान से हार गई।

उन्होंने कहा कि यह सब अब हंसने लायक लगता है। ये राष्ट्रवादी हमारी हाकी टीम को बधाई देने के लिए सड़कों पर क्यों नहीं उतरे जिसने उसी दिन पाकिस्तान को हराया था? इसमें कहा गया कि भारतीय क्रिकेट टीम को पाकिस्तान के खिलाफ खेलने से साफ मना कर देना चाहिए था। एेसा करने से हमारी टीम को देश की सराहना मिलती, लेकिन उन्होंने एेसा नहीं किया। उन्होंने देश के लिए त्याग नहीं किया। सामना में कहा गया कि अगर भारतीय टीम किसी अन्य देश से हारती है तो भारतीय क्रिकेट प्रशंसक इतनी भावनाएं नहीं दिखाते। यह केवल पाकिस्तान के मामले में होता है और यह दिखाता है कि लोग पड़ोसी देश को दुश्मन  मानते हैं। 

उद्धव ठाकरे नीत पार्टी ने इस्लामाबाद के साथ सभी तरह के रिश्ते तोडऩे की वकालत की। इसमें कहा गया कि जिन लोगों को लगता है कि पाकिस्तान को क्रिकेट के मैदान पर हराया जाना चाहिए, हमें उनसे कुछ नहीं कहना। क्योंकि हमारा मानना है कि पाकिस्तान के साथ किसी भी तरह का संबंध रखना कश्मीर में शहीद हुए हजारों जवानों का अपमान है। हमें इस बात से बाहर निकलना चाहिए कि क्रिकेट खेलने से उनसे संबंधों में सुधार होगा। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You