Subscribe Now!

करन नगर आतंकवादी हमले को विफल बनाने की कहानी जवान की जुबानी

  • करन नगर आतंकवादी हमले को विफल बनाने की कहानी जवान की जुबानी
You Are HereNational
Thursday, February 15, 2018-5:21 PM

श्रीनगर: श्रीनगर के करन नगर में केंद्रीय सुरक्षा पुलिस बल (सीआरपीएफ) शिविर पर आतंकवादी हमले को विफल करने वाले जवान रघुनाथ घईत ने आज मीडिया के सामने पूरा वृतांत प्रस्तुत किया।  सोमवार को करन नगर स्थित बल के शिविर में उस समय ड्यूटी पर तैनात महाराष्ट्र के नंदूरा के रहने वाले 27 वर्षीय जवान घईत ने बताया कि शक होने पर मैंने आतंकवादियों पर गोली चलाई और वह भाग खडे हुए।

 बहादुर जवान घईत ने बताया कि वह सुबह की ड्यूटी पर था और उस समय सुबह के करीब साढे पांच बजे रहे थे। उसने देखा की दो पिस्तौल. ग्रेनेड और हथियारों से लैस आतंकवादी शिविर की तरफ तेजी से बढ़ रहे हैं। जवान ने बताया, उस समय बफ पड़ रही थी और बहुत कुछ साफ नहीं दिखाई दे रहा था। जब मुझे इस बात का विश्वास हो गया कि वे आतंकवादी हैं, तो मैंने उन्हें चुनौती देते हुए फायरिंग शुरु कर दी। अंधेरे का फायदा उठाकर वे भागकर नजदीक की इमारत में घुस गए।

 इसके बाद आतंकवादियों का बल के शिविर में घुसने का प्रयास विफल हो गया था। बाद में सोमवार की इस वारदात में आतंकवादियों के साथ हुई गोलीबारी में एक जवान शहीद हो गया था।  उधर बल के महानिदेशक आर आर भटनागर ने कहा है कि आतंकवादी हमले को विफल करने में जवान के शौर्य को देखते हुए उसे सम्मानित करने का फैसला किया गया है। भटनागर ने बताया घईत के साहस को देखते हुए उसे समय से पहले पदोन्नति देने का निर्णय लिया गया है।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You