श्री विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय को जिलों में एक्सटेंशन सेंटर खोलने के दिए निर्देश

Edited By Archna Sethi, Updated: 20 Jun, 2022 06:57 PM

sri vishwakarma skill university to open extension centers in the districts

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने गुरुग्राम में की विश्वविद्यालय की प्रगति की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता

चंडीगढ़, (अर्चना सेठी): हरियाणा के मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने श्री विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय को प्रदेश के अन्य जिलों में एक्सटेंशन सेंटर खोलने के निर्देश दिए हैं। इन सेंटरों में युवाओं का कौशल निखारने के लिए विश्वविद्यालय की तर्ज पर रोजगारोन्मुखी कोर्स चलाए जाएंगे। मुख्यमंत्री गुरुग्राम के लोक निर्माण विश्रामगृह में हरियाणा में बनाए गए देश के पहले  विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय की प्रगति की समीक्षा कर रहे थे। समीक्षा बैठक में विश्वविद्यालय के कुलपति श्री राज नेहरू और गुरुग्राम के मंडल आयुक्त श्री राजीव रंजन भी उपस्थित थे।

 

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज के आधुनिक युग में अब कौशल का दौर है। अब पहले वाली थ्री-आर शिक्षा का महत्व नहीं रहा। उन्होंने कहा कि वरिष्ठ माध्यमिक स्तर के बाद उच्च शिक्षा में विद्यार्थियों को हुनरमंद बनाने पर जोर देना होगा। इसके लिए जिस प्रकार के रोजगारोन्मुखी कोर्स श्री विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय में चलाए जा रहे हैं, वैसे ही कोर्स अन्य जिलों में चलाने के लिए विश्वविद्यालय अपने एक्सटेंशन सेंटर खोले। गुरुग्राम व पलवल जिलों के अलावा प्रदेश के दूसरे जिलों में भी युवाओं का कौशल निखारने की जरूरत है। उन जिलों में खाली पड़े सरकारी भवनों की पहचान करके वहां पर सेंटर चलाए जा सकते हैं। यही नहीं, उन जिलों में स्थित इंजीनियरिंग कॉलेजों को भी इस विश्वविद्यालय के साथ जोड़ें और उन्हें एफिलिएशन दें।

 

 

मुख्यमंत्री ने रोजमर्रा के जीवन में आवश्यक कौशल जैसे -इलैक्ट्रिशियन , पलंबर, रेफ्रिजिरेटर , वॉशिंग मशीन , एसी आदि रिपेयर करने वाले कोर्स करवाने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि ये अल्पाविध के कोर्स करके युवा अपनी आजीविका अच्छे से कमा सकते हैं तथा परिवार की आय बढ़ा सकते हैं। इसके साथ मुख्यमंत्री ने विश्वविद्यालय प्रशासन को विद्यार्थियों का डाटा तैयार करने और उनको ट्रैक करने के निर्देश देते हुए कहा कि केवल सफल विद्यार्थियों का ही डाटा न रखें बल्कि विश्वविद्यालय से प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद भी जो युवक-युवतियां सफल नहीं हो पा रहे हैं, उन पर भी ध्यान दें। उन्होंने कहा कि इन सभी विद्यार्थियों के परिवार पहचान पत्र का रिकॉर्ड भी रखें।

 

 

 मनोहर लाल ने कहा कि एक लाख रुपये वार्षिक से कम आय वाले परिवारों की आय बढ़ाने में के उद्देश्य से मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के अंतर्गत प्रदेश में अंत्योदय मेलों का आयोजन किया जा रहा है। इन मेलों में कौशल विश्वविद्यालय की ओर से प्रतिनिधि मौजूद रहें और लाभार्थियों को बताएं कि विश्वविद्यालय द्वारा विभिन्न्  रोजगारोन्मुखी कोर्स चलाए जा रहे हैं जिनमें से वे अपनी रूचि का कोर्स चुनकर नौकरी प्राप्त करने या स्वरोजगार शुरू करने योग्य बन सकते हैं। उन्होंने विश्वविद्यालय प्रशासन से कहा कि वह बाजार में मांग के अनुरूप युवाओं को स्किल अपग्रेडेशन के कोर्स करवाएं और उनके बारे में लगातार प्रचार प्रसार भी करवाएं।

 

 

बैठक में विश्वविद्यालय के कुलपति श्री राज नेहरू ने बताया कि अब तक 267.64 करोड़ रुपये की राशि खर्च की जा चुकी है। उन्होंने बताया कि युनिवर्सिटी परिसर में ओलंपिक स्टैंडर्ड का स्पोटर्स कॉम्पलैक्स बनाया जा रहा है जो रेजिडेंशियल होगा। इसमें स्टेडियम, जिमनेजियम ,स्वीमिंग पूल आदि की सुविधा उपलब्ध होगी। इसके अलावा, ऑडिटोरियम व कन्वेंशन सेंटर का निर्माण किया जा रहा है जिसमें लगभग 1500 व्यक्तियों के बैठने की क्षमता होगी। उन्होंने बताया कि वर्ष-2022-23 में विश्वविद्यालय में 34 कोर्सिज में 983 विद्यार्थियों को दाखिला दिया गया है, जिसमें डिप्लोमा, डिग्री और स्नातकोत्तर कोर्स शामिल हैं।

Related Story

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!