ताइवान के मुद्दे को लेकर चीन के विदेश मंत्री ने कही ये बात

Edited By Pardeep,Updated: 08 Mar, 2022 12:36 AM

the foreign minister of china said this regarding the issue of taiwan

यूक्रेन में रूस के हमले की तर्ज पर चीन के ताइवान में सैन्य कार्रवाई शुरू करने की आशंका के बीच चीनी विदेश मंत्री वांग यी ने सोमवार को कहा कि ताइवान का मुद्दा यूक्रेन के मुद्दे से अलग है और इन दोनों की तुलना नहीं की जा सकती है। वांग ने संसद सत्र के...

बीजिंगः यूक्रेन में रूस के हमले की तर्ज पर चीन के ताइवान में सैन्य कार्रवाई शुरू करने की आशंका के बीच चीनी विदेश मंत्री वांग यी ने सोमवार को कहा कि ताइवान का मुद्दा यूक्रेन के मुद्दे से अलग है और इन दोनों की तुलना नहीं की जा सकती है। वांग ने संसद सत्र के इतर अपने वार्षिक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘सबसे बड़ा अंतर इस बात में निहित है कि ताइवान चीन के क्षेत्र का एक अविभाज्य हिस्सा है और ताइवान का मुद्दा पूरी तरह से चीन का आंतरिक मामला है, जबकि यूक्रेन का मुद्दा दो देशों, रूस और यूक्रेन के बीच विवाद से उत्पन्न हुआ है।'' 

चीन एक स्व-शासित द्वीप ताइवान को एक विद्रोही प्रांत के रूप में देखता है। वांग ने अमेरिका पर कटाक्ष करते हुए कहा कि यह दोयम दर्जे का घोर कृत्य है कि कुछ लोग यूक्रेन मुद्दे पर संप्रभुता के सिद्धांत के बारे में ताइवान के सवाल पर चीन की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता को कमतर आंकते रहे हैं। उन्होंने अमेरिका में कुछ ताकतों पर ‘‘ताइवान की स्वतंत्रता'' के लिए अलगाववादी ताकतों को बढ़ावा देने का आरोप लगाया और एक-चीन सिद्धांत को चुनौती देने की कोशिश बताया। 

इस बीच सोमवार को ताइपे में, ताइवान के विदेश मंत्री जोसेफ वू ने कहा कि द्वीप यूक्रेन के घटनाक्रम को करीब से देख रहा है। यूक्रेन की स्थिति की ताइवान की स्थिति से तुलना करते हुए उन्होंने कहा कि रूस यूरोप में अपने अधिनायकवाद का विस्तार करना चाहता है, जबकि चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग की महत्वाकांक्षा राष्ट्र को फिर से जीवंत करने और अपनी सेना का निर्माण करने की है। वू ने कहा, ‘‘यह एक ऐसी स्थिति है जिसे हमें ध्यान से देखने की जरूरत है।''

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!