आदित्य ठाकरे का बड़ा बयान, कहा- 29 मई को एकनाथ शिंदे को सीएम पद का प्रस्ताव दिया था

Edited By rajesh kumar,Updated: 26 Jun, 2022 06:05 PM

aaditya thackeray on may 29 eknath shinde was offered the post of cm

बीजेपी के लोग बागी विधायकों से क्यों मिल रहे हैं. शिंदे को सीएम पद का प्रस्ताव दिया था। 30 मई को सीएम पद का प्रस्ताव दिया गया था। बीजेपी शामिल नहीं तो बीजेपी के नेता बागी विधायकों से क्यों मिल रहे है।

नेशनल डेस्क: महाराष्ट्र की राजनीति में जारी सियासी संकट के बीच कैबिनेट मंत्री आदित्य ठाकरे ने मंत्री एकनाथ शिंदे को लेकर बड़ा बयान दिया है। आदित्य ठाकरे ने कहा कि शिंदे को सीएम पद का प्रस्ताव दिया था। 30 मई को सीएम पद का प्रस्ताव दिया गया था। उन्होंने बीजेपी को भी निशाने पर लेते हुए कहा कि बीजेपी नेता बागी विधायकों से क्यों मिल रहे है? उद्धव ठाकरे के बीमार होने का फायदा उठाया जा रहा है। वरिष्ठ मंत्री एकनाथ शिंदे के बागी होने के बाद राज्य में आया सियासी संकट दिन पर दिन गहराता जा रहा है। पार्टी के 37 से अधिक विधायकों के साथ एकनाथ शिंदे गुवाहाटी के एक होटल में डेरा जमाए हुए हैं और महाअघाड़ी सरकार को गिराने की हर संभव प्रयास कर रहे हैं। इधर, महाराष्ट्र में मौजूद उद्धव खेमा सरकार बचाने की कवायद में जुटा हुआ है।

बागी विधायकों को चेतावनी
इससे पहले आदित्य ठाकरे ने गुवाहाटी में मौजूद पार्टी के बागी विधायकों को चेतावनी देते हुए कहा है कि मुंबई हवाईअड्डे से विधान भवन तक जाने वाली सड़क वर्ली से होकर गुजरती है। मुंबई का वर्ली इलाका पारंपरिक रूप से शिवसेना का गढ़ रहा है, जहां से आदित्य ठाकरे विधायक हैं। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ने शनिवार शाम पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि पार्टी में 'बागियों' के लिए कोई जगह नहीं है। 

बागी विधायकों ने समूह का नाम ''शिवसेना (बालासाहेब)'' रखा
महाराष्ट्र में चल रहे राजनीतिक संकट के बीच यह बयान दिया, जो वरिष्ठ मंत्री एकनाथ शिंदे के विद्रोह से उत्पन्न हुआ है। शिवसेना के अधिकांश विधायकों ने शिंदे का समर्थन किया है और वे फिलहाल भाजपा शासित राज्य असम के गुवाहाटी में डेरा डाले हुए हैं। शिंदे और उनके समूह ने दावा किया है कि वे ''असली शिवसेना'' का प्रतिनिधित्व करते हैं। विद्रोही समूह ने कहा है कि उसे विधायक दल में दो-तिहाई बहुमत प्राप्त है और वह सदन में अपनी शक्ति साबित करेगा। असंतुष्टों ने अपने समूह का नाम ''शिवसेना (बालासाहेब)'' रखा है। 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!