अनूठा रामभक्त: आंध्र प्रदेश के बुनकर ने 60 मीटर लंबी रेशमी साड़ी में दिखाई आस्था, 13 भाषाओं में लिखा 'जय श्रीराम'

Edited By Seema Sharma, Updated: 21 Apr, 2022 09:03 AM

andhra weaver shows faith in 60 meter long silk saree

आंध्र प्रदेश के एक बुनकर ने 60 मीटर लंबी रेशमी साड़ी बनाई है। इस साड़ी की खास बात यह है कि इसमें 13 भारतीय भाषाओं में 32,200 बार जय श्रीराम लिखा हुआ है। श्री सत्य साईं जिले के धर्मावरम के जुजारू नागराजू ने इस साड़ी को बनाया है।

नेशनल डेस्क: आंध्र प्रदेश के एक बुनकर ने 60 मीटर लंबी रेशमी साड़ी बनाई है। इस साड़ी की खास बात यह है कि इसमें 13 भारतीय भाषाओं में 32,200 बार जय श्रीराम लिखा हुआ है। श्री सत्य साईं जिले के धर्मावरम के जुजारू नागराजू ने इस साड़ी को बनाया है। नागराजू के मुताबिक, इसे बनाने के लिए 1.5 लाख रुपए खर्च हुए हैं।

 

यही नहीं इस साड़ी को बनाने में उसे चार महीने लगे। इसका वजन 16 किलो बताया जा रहा है। हर रोज तीन बुनकर इसे बनाते थे जो चार महीने में जाकर यह तैयार हुई। नागराजू का अब इसे अयोध्या रामालयम को गिफ्ट करने की तैयारी कर रहे है।

 

168 अलग-अलग चित्र है भगवान राम के
यह खास साड़ी 60 मीटर लंबा और 44 इंच चौड़ा है जिसमें रामायण के सुंदरकांड से भगवान राम के 168 अलग-अलग चित्र भी बुने गए है। इस साड़ी को तैयार करने वाले जुजारू नागराजू ने इसे अपने आप में एक खास साड़ी बताया है और इसे अपनी भाषा में "राम कोटि वस्त्रम" कहा है।

 

40 साल के नागराजू ने बताया कि वे इस साड़ी को अपने पर्सनल सेविंग्स से बनाया है और अब उनकी इच्छा है कि वह इस साड़ी को अयोध्या के राम मंदिर, जिसे वह रामालय कहते हैं, को भेंट करेंगे। नागराजू के इस खास साड़ी की अब हर जगह चर्चा हो रही है और लोग इसे पसंद भी कर रहे हैं। 

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!