जिनपिंग का आदेश-  कम्युनिस्ट पार्टी के वफादार लोग ही करें चीन की सेना का नेतृत्व

Edited By Tanuja,Updated: 31 Jul, 2022 01:38 PM

chinese military should be headed by  reliable people  loyal to cpc xi

चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने चेतावनी दी है कि चीन राष्ट्रीय सुरक्षा के मामले में बढ़ती अस्थिरता और अनिश्चितता का सामना कर रहा है। उन्होंने जोर देते हुए

बीजिंगः चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने चेतावनी दी है कि चीन राष्ट्रीय सुरक्षा के मामले में बढ़ती अस्थिरता और अनिश्चितता का सामना कर रहा है। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि विश्व के सबसे बड़े सशस्त्र बलों पर अपने ‘पूर्ण नेतृत्व' को सुनिश्चित करने के लिए चीनी सेना का नेतृत्व सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी के प्रति वफादार ‘विश्वसनीय लोगों' को करना चाहिए । शी ने नये युग में प्रशिक्षण सक्षम कर्मियों द्वारा सेना को मजबूत करने की रणनीति के और अधिक क्रियान्वयन के विषय पर आयोजित एक अध्ययन सत्र में बृहस्पतिवार को यह टिप्पणी की।

 

उन्होंने पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) के एक अगस्त को पड़ने वाले 95वें स्थापना दिवस से पहले सैन्य कर्मियों को बधाई दी। उल्लेखनीय है कि 20 लाख कर्मियों वाली पीएलए विश्व में सबसे बड़ी सेना है। एक आधिकारिक विज्ञप्ति के मुताबिक शी ने कहा, ‘‘हमें कर्मियों को नियुक्त और उनका मूल्यांकन करते समय राजनीतिक सत्यनिष्ठा पर बल देना चाहिए।'' उन्होंने जोर देते हुए कहा कि सशस्त्र बलों का नेतृत्व सदा ही विश्वसनीय लोगों द्वारा किया जाना चाहिए ,जो पार्टी के प्रति वफादार हों। '' शी ने अपने संबोधन में कहा कि विश्व अस्थिरता और परिवर्तन के एक नये दौर में प्रवेश कर गया है।

 

उन्होंने कहा कि चीन राष्ट्रीय सुरक्षा के मामले में बढ़ती अस्थिरता और अनिश्चितता का सामना कर रहा है। अमेरिकी प्रतिनिधि सभा (संसद के निम्न सदन) की अध्यक्ष नैंसी पेलोसी की ताइवान की प्रस्तावित यात्रा को लेकर अमेरिका और चीन के बीच तनाव बढ़ने की पृष्ठभूमि में उन्होंने यह टिप्पणी की। उल्लेखनीय है कि ताइवान को चीन अपनी मुख्य भूमि का हिस्सा मानता है।  

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!