30 एकड़ जमीन पर लगे 4800 पौधे, बना विश्व रिकार्ड

Edited By vasudha,Updated: 26 Mar, 2019 01:29 PM

4800 plants planted on 30 acres

केरल के कोट्टायम में एक व्यक्ति द्वारा वन में 4800 किस्मों के पौधे लगाने के चलते  उनका नाम रिकार्ड बुक में दर्ज हो गया है। कोट्टायम के भितरी क्षेत्रों में गुजरने पर भूमि के एक विशाल क्षेत्रों में पौधों की कतारें देखने को मिलेगी जो लगभग 100 मिटर के...

नेशनल डेस्क: केरल के कोट्टायम में एक व्यक्ति द्वारा वन में 4800 किस्मों के पौधे लगाने के चलते  उनका नाम रिकार्ड बुक में दर्ज हो गया है। कोट्टायम के भितरी क्षेत्रों में गुजरने पर भूमि के एक विशाल क्षेत्रों में पौधों की कतारें देखने को मिलेगी जो लगभग 100 मिटर के अंतराल में है। इसको ध्यानपूर्वक देखने पर मालूम होगा कि एक झोपड़ी में यह खुद के लगाए हुए पौधे हैं। 
PunjabKesari

अपने हाथों से बनाए गए इस वन को Mango Meadows का नाम दिया गया है। जहां कम से कम 15 देशों से विभिन्न पौधों की 4800 किस्मे हैं। अपनी प्रतिशता के अनुरुप जमीन के इस छोटे से हिस्से में एक कृषि पार्क भी है, जिसने अब URF विश्व रिकॉर्ड और लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में स्थान प्राप्त कर लिया है। ये रिकार्ड 30 एकड़ के न्यूनतम क्षेत्र में कृषि और बागवनी पौधों की अधिक संख्या में लगाने के लिए मिला है।
PunjabKesari

लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में जारी किए गए प्रमाण पत्र में कहा गया कि इस वन में पौधों की 4800 जाति है। जिनमें 700 पेड़, 900 फुलों के पौधे जो 15 देशों से बीजों को इकट्ठा कर लाए गए हैं। विभिन्न तरह के कृषि और बागवनी पौधों का यह एक शो-पीस है, इनमें तेल, बीजों जैसे व्यवसायिक फसलें भी हैं। इनमें से कुछ दवाइयों की भी किस्में शामिल हैं। 

PunjabKesari
उच्च क्षेत्रों में पाए जाने वाले इलायची वाले पौधे भी लगाए गए हैं। URF के प्रमाण पत्र के अनुसार इस पार्क में मेडिकल पौधों की 1,950 प्रजातियां हैं। इस संपत्ति के मालिक एन.के. कुरियन ने कहा कि ये वन 15 वर्षों की कड़ी मेहनत के बाद विकसित हुआ है। धान के खेतों में घिरे इस 35 एकड़ के क्षेत्रों में कृषि, पशुपालन और डायरी फार्म की विभिन्न गतिविधियां भी जारी है। 

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!