देश

एडीआर की रिपोर्ट, सियासी दलों ने करोड़पति और दबंग नेताओं को टिकट थमाया

एडीआर की रिपोर्ट, सियासी दलों ने करोड़पति और दबंग नेताओं को टिकट थमाया

नेशनल डेस्कः चुनावी राजनीति में स्वच्छता लाने के बड़े-बड़े दावे हर मंच से किए जाते रहे हैं। लेकिन जब चुनाव जीतने की बात आती है तो हर राजनीतिक दल करोड़पति और अपराधी उम्मीदवारों पर ही अपना भरोसा जताता है। तेलंगाना राज्य के विधानसभा चुनाव में उतरे 1821 उम्मीदवारों में से 1777 उम्मीदवारों के हलफनामे के अध्ययन के बाद एडीआर-इलेक्शन वॉच की रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि सभी राजनीतिक दलों ने पैसे वालों और दबंग लोगों ही उम्मीदवार बनाया है।

PunjabKesari

रिपोर्ट के मुताबिक, तेलगू देशम पार्टी (टीडीपी) के 92 फीसदी उम्मीदवार करोड़पति हैं। वहीं राज्य में सत्तारूढ़ तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के 90 फीसदी, कांग्रेस के 80 और भाजपा के 73 फीसदी उम्मीदवार करोड़पति हैं। रिपोर्ट में यह बात भी सामने आई है कि 2014 में दोबारा चुनाव लड़ रहे उम्मीदवारों की औसत सम्पत्ति 8.11 करोड़ थी, जबकि 2018 में यह 13.78 करोड़ हो गई। यानी दोबारा चुनाव लड़ रहे उम्मीदवारों की औसत संपत्ति में 5.66 करोड़ रुपये की इजाफा हुआ।

PunjabKesari

रिपोर्ट में कांग्रेस के राजगोपाल रेड्डी को सबसे अमीर उम्मीदवार बताया गया है, जिनकी कुल संपत्ति 314 करोड़ रुपये से अधिक घोषित की गई है। वे नालगोंडा जिले के मुनुगोडे सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। उम्मीदवारों के आपराधिक रिकॉर्ड की बात करें तो 1777 उम्मीदवारों में से 21 फीसदी पर आपराधिक मामले दर्ज हैं, जबकि 13 फीसदी पर गंभीर अपराध शामिल हैं।

PunjabKesari

पार्टियों के लिहाज से सबसे ज्यादा 70 फीसदी (99 में से 69) कांग्रेस ने दागी उम्मीदवारों पर अपना भरोसा जताया है। इसके बाद टीआरएस के 55 फीसदी यानी 65 उम्मीदवार और 37 फीसदी यानी 44 उम्मीदवारों ने अपनी आपराधिक गतिविधियों की जानकारी दी है। 

Related News