11 नवंबर: 24 घण्टे हैं खास, पुण्यलाभ के लिए रखें ध्यान

  • 11 नवंबर: 24 घण्टे हैं खास, पुण्यलाभ के लिए रखें ध्यान
You Are HereThe planets
Thursday, November 10, 2016-3:23 PM

कल 11 नवंबर शुक्रवार को देव प्रबोधनी एकादशी है। 4 महीने के बाद जगेंगे भगवान श्री हरि व‌िष्‍णु। शास्त्रों के अनुसार, कल का न केवल दिन बल्कि रात भी है खास इसलिए कुछ खास काम हैं जो नहीं करने चाहिए अन्यथा कमाए गए पुण्य भी पाप में परिवर्तित हो जाते हैं। वैसे तो इस दिन व्रत रखने का विधान है लेकिन संभव न हो तो पुण्यलाभ के लिए रखें ध्यान-


* जुआ खेलने वाले का घर-परिवार कभी बस नहीं सकता। वैसे तो इसे कभी खेलना नहीं चाहिए लेकिन एकादशी तिथि पर स्वयं पर नियंत्रण रखें और यह खेल न खेलें। 
 
* एकादशी की रात जागरण करके हरी नाम संकीर्तन करना चाहिए।
 
* पान नहीं खाना चाहिए इससे रजोगुण में बढ़ौतरी होती है। किसी को भेंट भी न करें।

 
* दातुन, मंजन, टूथ पेस्ट का प्रयोग न करें।


* चोरी करने से इस लोक में ही नहीं परलोक में भी दुख भोगना पड़ता है। इस बुरी आदत से एकादशी वाले दिन ही नहीं बल्कि सदा दूर रहें।

 
* हिंसा से दूर रहें, मन में बुरे भाव आते हैं।

 
* संभोग न करें। ब्रह्मचार्य का पालन करें।


* झूठ नहीं बोलना चाहिए। 


* किसी के गुण-दोष की व्याख्या अथवा तिरस्कार न करें।


* काम भाव से दूर रहें।


* मन में द्वेष न आने दें।


* मांस मद‌िरा से दूर रहें।


* लहसुन प्याज का सेवन न करें।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You