ग्रीन टी से कैंसर का इलाज खोज रहा 12 साल का लड़का

  • ग्रीन टी से कैंसर का इलाज खोज रहा 12 साल का लड़का
You Are HereInternational
Friday, April 14, 2017-2:23 PM

लंदन: आज के समय में कैंसर सबसे घातक बीमारी है। दुनिया भर के अरबों लोग कैंसर से पीड़ित हैं। वैज्ञानिक भी इस बीमारी से लोगों को छुटकारा दिलाने के लिए कई रिसर्च करते हैं। 


अटलांटा के बाहर जॉर्जिया में रहने वाले 12 साल के स्टीवन लिट ने ग्रीन टी में कैंसर से लड़ने वाले रसायनों की खोज की है। जॉर्जिया साइंस एंड इंजीनियरिंग फेयर के लिए मिडल स्कूलर के प्रोजेक्ट में कीड़े में कैंसर के विकास से लड़ने के लिए ग्रीन टी में एंटीऑक्सिडेंट का इस्तेमाल किया। इतना ही नहीं इस खोज के लिए उसे पुरस्कार दिया गया है और देशभर के शोधकर्ताओं का ध्यान अपनी और आकर्षित किया।


बता दें कि स्टीफन ने कैंसर संबंधी शोध में उस वक्त रुचि लेनी शुरू कर दी जब उसके दो परिवारिक मित्रों को स्तन कैंसर जैसी घातक बीमारी से जूझना पड़ा। इसके बाद उसने तुरंत कैंसर के बारे में पढ़ना शुरू कर दिया और फिर उसे जापान में इस बीमारी की दर में कमी के बारे में जानकारी देने वाला एक लेख लिखा हुआ मिला, जिसमें ग्रीन टी में मौजूद इन एंटीऑक्सिडेंट के बारे में लिखा हुआ था। 


फिर स्टीफन और उसके पिता लिस्ले लिट ने अपने घर में एक अस्थायी प्रयोगशाला बनाने के लिए जरूरी सामान को ऑनलाइन खरीदा। उन्होंने 100 कीड़े को चार समूहों में विभाजित कर दिया। इसके बाद उन्होंने यह जांचना शुरू किया कि क्या ग्रीन टी में मौजूद पॉलीफेनॉल कार्सिनोजेन्स के संपर्क में आने से कीड़ो में ट्यूमर को रोका जा सकता है। लिस्ले ने कहा कि वह अपने आगे देखने के नजरिए के कारण यह कर पाया, जो उसकी उम्र के और बच्चे नहीं कर पाते हैं। स्टीवन ने कहा कि जो बातें वह जानता है उसे और लोगों के साथ शेयर करना चाहता है ताकि लोगों को इससे मदद मिल सके।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You