पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड ने घोषित किया 12वीं का परीक्षा परिणाम

Edited By Ajay Chandigarh,Updated: 28 Jun, 2022 07:04 PM

daughters topped 497 points equal to three

पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड ने 12वीं का साइंस, कॉमर्स, ह्यूमैनिटीज तथा वोकेशनल ग्रुप की परीक्षा का परिणाम मंगलवार को घोषित कर दिया है। शिक्षा बोर्ड के चेयरमैन प्रोफैसर योगराज ने बताया कि तेजा सिंह स्वतंत्र मैमोरियल सीनियर सैकेंडरी स्कूल शिमलापुरी की...

मोहाली,(नियामियां): पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड ने 12वीं का साइंस, कॉमर्स, ह्यूमैनिटीज तथा वोकेशनल ग्रुप की परीक्षा का परिणाम मंगलवार को घोषित कर दिया है। शिक्षा बोर्ड के चेयरमैन प्रोफैसर योगराज ने बताया कि तेजा सिंह स्वतंत्र मैमोरियल सीनियर सैकेंडरी स्कूल शिमलापुरी की छात्रा अर्शदीप कौर पंजाबभर में पहले स्थान व सरकारी सीनियर सैकेंडरी स्कूल बच्छोआना मानसा की अर्शप्रीत कौर ने दूसरे तथा सरस्वती सीनियर सैकेंडरी स्कूल जैतो फरीदकोट की कुलविंद्र कौर ने तीसरा स्थान हासिल किया है। इन तीनों ने 500 में से 497 अंक प्राप्त किए हैं। उन्होंने बताया कि आयु के हिसाब से इन्हें पहला, दूसरा तथा तीसरा स्थान दिया गया है। जिस छात्रा की आयु सबसे कम है उसे पहला, उससे अधिक आयु वाली को दूसरा तथा उससे भी अधिक आयु वाली लड़की को तीसरा स्थान दिया गया है तथा बोर्ड का यही नियम है। परिणाम घोषित करते समय शिक्षा बोर्ड के वाइस चेयरमैन डॉ. जितेन्द्र भाटिया, परीक्षा नियंत्रक जनकराज महरोक के अलावा संबंधित शाखाओं के उच्च अधिकारी भी उपस्थित थे।

 


प्रोफैसर योगराज ने बताया कि इस बार 12वीं कक्षा की परीक्षा में कुल 301700 परीक्षार्थी अपीयर हुए जिनमें से 292530 परीक्षार्थी पास हुए। इस बार की पास प्रतिशतता 96.96 प्रतिशत रही है। परीक्षा नियंत्रक जनकराज महरोक ने बताया कि 12वीं कक्षा की टर्म-2 की लिखित एवं प्रायोगिक परीक्षा 8 जून को समाप्त हुई थी तथा उसके बाद परीक्षार्थियों के हितों को मुख्य रखते हुए हायर अथॉरिटी, योग अधिकारियों एवं कर्मचारियों के सहयोग से यह परिणाम मात्र 20 दिनों में ही घोषित करने में कामयाबी हासिल की है। परिणाम तैयार करने के लिए चेयरमैन योगराज ने शिक्षा बोर्ड के सभी कर्मचारियों, मूल्यांकन करने वालों तथा सभी जिला शिक्षा अफसरों की को-आर्डीनेशन की प्रशंसा भी की है। इस बार का परिणाम पिछले वर्ष से काफी बेहतर रहा है क्योंकि पिछले वर्ष की पास प्रतिशतता 93.39 प्रतिशत रही थी। परिणाम लेट आर.एल. परीक्षार्थियों की संख्या 1969 रही है। जिनमें कुछ परीक्षार्थियों का परिणाम फीस के कारण, कुछ की एलिजिबिलिटी नहीं बनी तथा कुछ के अवार्ड लिस्ट अभी तक नहीं आई है। जिसके बारे में तालमेल किया जा रहा है तथा इनका परिणाम भी शीघ्र ही घोषित कर दिया जाएगा। 

 


चेयरमैन ने बताया कि इस बार लड़कियों की पास प्रतिशतता 97.78 प्रतिशत रही है कुल 137161 लड़कियां इस परीक्षा में बैठी थीं, जिनमें 134122 लड़कियां पास हुई। परीक्षा में बैठने वाले लड़कों की संख्या 164529 थी जिनमें से 96.27 प्रतिशत की दर से 158399 लड़के पास हुए। इस बार कुल 10 ट्रांसजैंडरों ने परीक्षा दी जिनमें से 9 पास पास हुए।

 


स्कूलों के विद्यार्थियों के आंकड़े देते हुए प्रोफैसर योगराज ने कहा कि एफिलिएटिड स्कूलों के इस परीक्षा में बैठने वाले परीक्षार्थियों की संख्या 62597 थीं जिनमें से 96.23 प्रतिशत की दर से 60239 परीक्षार्थी पास हुए। एसोसिएट स्कूलों के इस परीक्षा में हिस्सा लेने वाले परीक्षार्थियों की संख्या 12649 थी। इनमें से 11801 परीक्षार्थी पास हुए तथा इनकी पास प्रतिशतता 93.30 रही। सरकारी स्कूलों के 200550 परीक्षार्थी इस परीक्षा में बैठे थे और उनमें से 9743 प्रतिशत की दर से 195399 परीक्षार्थी पास होने में सफल रहे। एडिड स्कूलों के 25904 परीक्षार्थियों ने यह परीक्षा दी थी और 96.86 प्रतिशत की दर से 25091 परीक्षार्थी पास होने में कामयाब रहे। 

 


इस बार 2624 परीक्षार्थियों की कंपार्टमेंट आई है, 4587 फेल हुए हैं तथा 1959 का परिणाम अभी रोका गया है। ग्रामीण तथा शहरी परीक्षार्थियों के आंकड़े बताते हुए कहा कि शहरी क्षेत्र के 121050 परीक्षार्थी रैगुलर तौर पर उपस्थित हुए, जिनमें से 97 प्रतिशत की दर से 117436 पास होने में कामयाब रहे। ग्रामीण क्षेत्र के 180650 परीक्षार्थी रैगुलर तौर पर इस परीक्षा में बैठे थे जिनमें से 96.9 प्रतिशत की दर से 175094 परीक्षार्थी पास हुए। विभिन्न ग्रुपों के बारे में कहा कि कॉमर्स में रैगुलर परीक्षार्थियों की संख्या 30431 थी तथा 29807 परीक्षार्थी पास हुए। कॉमर्स ग्रुप की पास प्रतिशतता 97.95 रही है। ह्यूमैनिटीज ग्रुप के 217185 परीक्षार्थियों में से 209972 परीक्षार्थी पास हुए हैं तथा इनकी पास प्रतिशतता 96.68 प्रतिशत रही है। इसी तरह साइंस गु्रप के 42588 में से 41664 परीक्षार्थी पास हुए हैं। वोकेशनल ग्रुप के 11496 में से 96.44 प्रतिशत की दर से 11087 परीक्षार्थी पास होने में कामयाब रहे हैं। ओपन स्कूल प्रणाली के अधीन 15152 परीक्षार्थी इस रिक्शा में बैठे थे जिनमें से 76.61 प्रतिशत की दर से 11608 पास हुए हैं। ओपन स्कूल वाले परीक्षार्थियों में लड़कियों की संख्या 5254 थीं जिनमें से 4250 पास हुई है इसी तरह 9898 लड़कों में से 7358 लड़के ओपन स्कूल के पास हुए हैं। 

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!