Sikhism: ये है सिखों के 12 बजने की कहानी !

Edited By Niyati Bhandari, Updated: 15 Jun, 2022 10:41 AM

story of 12 o clock of the sikhs

कहते हैं कि अहमद शाह अब्दाली हिंदू लड़कियों और महिलाओं घरों से उठाकर बेचने के लिए गजनी के बाजार में ले जाता था। अब्दाली के आतंक से बचने के लिए महिलाओं ने सिखों के समक्ष गुहार लगाई। इसके बाद

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ

Sikhism: कहते हैं कि अहमद शाह अब्दाली हिंदू लड़कियों और महिलाओं घरों से उठाकर बेचने के लिए गजनी के बाजार में ले जाता था। अब्दाली के आतंक से बचने के लिए महिलाओं ने सिखों के समक्ष गुहार लगाई। इसके बाद सिख जरनैल बाबा जस्सा सिंह आहलूवालिया ने रात को 12 बजे एक विशेष अभियान के तहत अटैक किया और (2200 लड़कियों और महिलाओं को एक साथ बचाया था) बचाया था। न सिर्फ उनकी इज्जत बचाई बल्कि उनके घरों तक छोड़ कर आए थे। 

PunjabKesari Story of 12 o clock of the Sikhs

इसके बाद सिख जरनैल 12 बजे ही अत्याचार के खिलाफ अभियान चलाते थे। इसी अभियान का मुगलों में डर पैदा हो गया था। कहते थे कि सरदार आ जाएंगे 12 बज गए हैं, सावधान हो जाओ। 

PunjabKesari Story of 12 o clock of the Sikhs

जब सिखों के 12 बजते थे तब हिंदुस्तान की बहू-बेटियों की रक्षा होती थी। सरदारों ने हमेशा चढदीकलां और पंथ की भलाई के लिए काम किया है। सिखों की शहीदियों का लंबा लासानी इतिहास रहा है। 

PunjabKesari Story of 12 o clock of the Sikhs

 

Trending Topics

Ireland

221/5

20.0

India

225/7

20.0

India win by 4 runs

RR 11.05
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!