गुजरात की ओर बढ़ रहा चक्रवाती तूफान ‘तौकते’, कई राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी जारी

Edited By vasudha, Updated: 16 May, 2021 08:27 AM

cyclonic storm moving towards gujarat

चक्रवाती तूफान ‘तौकते’ और मजबूत हो गया है और यह गुजरात तट एवं केंद्र शासित प्रदेश दमन-दीव एवं दादरा-नगर हवेली तट की ओर तेजी से बढ़ रहा है। इसके उत्तर-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और 18 मई की दोपहर के आसपास पोरबंदर और नलिया के बीच गुजरात तट को पार करने...

नेशनल डेस्क: चक्रवाती तूफान ‘तौकते’ और मजबूत हो गया है और यह गुजरात तट एवं केंद्र शासित प्रदेश दमन-दीव एवं दादरा-नगर हवेली तट की ओर तेजी से बढ़ रहा है। इसके उत्तर-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और 18 मई की दोपहर के आसपास पोरबंदर और नलिया के बीच गुजरात तट को पार करने की संभावना है। वहीं केरल, गोवा, मुंबई के तटीय इलाकों में भारी बारिश शुरू हो गई है और मुंबई सहित उत्तरी कोंकण में कुछ स्थानों पर तेज हवाओं के साथ भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। 

PunjabKesari
पीएम मोदी ने की थी ‘‘तौकते’’ को लेर बैठक
भारतीय मौसम विभाग ने बताया कि महाराष्ट्र की राजधानी में रविवार दोपहर से बारिश की उम्मीद है। तूफान फिलहाल गोवा से 250 किलोमीटर दक्षिण-पश्चिम में है। वहीं इससे पहले दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चक्रवात ‘‘तौकते’’ से निपटने की राज्यों, केंद्रीय मंत्रालयों और एजेंसियों की तैयारियों का जायजा लेने के लिएएक महत्वपूर्ण बैठक की थी। इस दौरान  उन्होंने लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने तथा बिजली, दूरसंचार, स्वास्थ्य, पेयजल जैसी जरूरी सेवाओं का प्रबंध सुनिश्चित करने के निर्देश दिए थे। 


एनडीआरएफ की टीमें तैनात
एनडीआरएफ के एक प्रवक्ता ने बताया कि राष्ट्रीय आपदा मोचन बल की टीमें गुजरात के गिर सोमनाथ, अमरेली, पोरबंदर, द्वारका, जामनगर, राजकोट, कच्छ, मोरबी, सूरत, गांधीनगर, वलसाड, भावनगर, नवसारी, भरूच और जूनागढ़ जिलों में तैनात हैं। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने गुजरात सरकार को जारी एक परामर्श में कहा कि ‘‘बहुत भीषण चक्रवाती तूफान’’ से फूस के घरों, सड़कों, बिजली और संचार लाइनों को नुकसान होने की संभावना है, खासकर सौराष्ट्र क्षेत्र के जिलों जैसे देवभूमि द्वारका, कच्छ, पोरबंदर, जूनागढ़, गिर सोमनाथ, जामनगर, अमरेली, राजकोट और मोरबी जिलों में।

PunjabKesari

सौराष्ट्र के तटीय जिलों में भारी बारिश की संभावना
17 मई को सौराष्ट्र के तटीय जिलों में कई स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होगी और सौराष्ट्र एवं कच्छ में कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा होगी तथा जूनागढ़ और गिर सोमनाथ जिलों में कुछ स्थानों पर अत्यधिक भारी वर्षा होने की संभावना है।परामर्श में कहा गया कि 17 मई की सुबह से उत्तर पश्चिमी अरब सागर के साथ लगने वाले इलाके और दक्षिण गुजरात तट से लगे इलाके में समुद्र बहुत अशांत रहेगा। मोरबी, कच्छ, देवभूमि द्वारका और जामनगर जिले के तटीय क्षेत्रों के दो-तीन मीटर ऊंची समुद्री लहर से जलमग्न होने और पोरबंदर, जूनागढ़, गिर सोमनाथ, अमरेली, भावनगर में 1-2 मीटर लहर से जलमग्न होने तथा गुजरात के शेष तटीय जिलों में और 0.5-1 मीटर लहर से जलमग्न होने की आशंका है।’

PunjabKesari

उद्धव ठाकरे ने भी दिए सतर्क रहने का निर्देश
गृह मंत्रालय ने 17 और 18 मई को उत्तर पश्चिमी अरब सागर और गुजरात तट से मछली पकड़ने का कार्य पूरी तरह से स्थगित करने की सलाह दी। महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने तटीय जिलों में अधिकारियों को सतर्क रहने का निर्देश दिया। ठाकरे ने आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की बैठक में कहा कि पालघर, रायगढ़, रत्नागिरि, सिंधुदुर्ग जिलों के कलेक्टरों को सभी आवश्यक सावधानी बरतने को कहा गया है।

Related Story

Trending Topics

Indian Premier League
Sunrisers Hyderabad

157/8

20.0

Punjab Kings

116/4

12.5

Punjab Kings need 42 runs to win from 7.1 overs

RR 7.85
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!