क्यों मनाया जाता है नाग पंचमी का त्यौहार, जानें कारण

Edited By Jyoti,Updated: 29 Jul, 2022 10:29 AM

katha nag panchami story in hindi

श्रावण मास चल रहा है जो अब धीरे धीरे अपने आखिरी चरम की ओर बढ़ रहा है। उसी के साथ इस मास में पड़ने वाले त्यौहार कतार में लगे हुए हैं। जिसके अनुसार अब आने वाला है श्रावण मास का नाग पंचमी का त्यौहार। हिंदू पंचांग के अनुसार ये पर्व सावन मास की पंचमी तिथी

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
श्रावण मास चल रहा है जो अब धीरे धीरे अपने आखिरी चरम की ओर बढ़ रहा है। उसी के साथ इस मास में पड़ने वाले त्यौहार कतार में लगे हुए हैं। जिसके अनुसार अब आने वाला है श्रावण मास का नाग पंचमी का त्यौहार। हिंदू पंचांग के अनुसार ये पर्व सावन मास की पंचमी तिथी के दिन मनाया जाता है। भारतीय संस्कृति में सर्प का बहुत महत्व बताया गया है बल्कि हिंदू धर्म में इन्हें देवता का दर्जा दिया गया है। चूंकि श्रावण मास भगवान शिव को अधिक प्रिय है, अतः इस मास में इनकी तो पूजा लाभदायक होती है। तो वहीं इस माह में शिव जी के साथ-साथ उनके गले का आभूषण यानि नाग देवता की भी पूजा भी बेहद लाभदायक माना जाता है। बता दें हिंदू धर्म में नाग पंचमी के त्यौहार लोग विधि वत रूप से नाग देवता की पूजा करते हैं तथा साथ ही साथ इन पर दूध आदि चढ़ाते हैं। माना जाता है इनकी आराधना करने से घर में सुख-समृद्धि की बढ़ोरती होती है। ये सब जानकारी के बारे में लगभग लोग जानते ही हैं, परंतु बहुत कम लोग इस मनाने के कारण जानते हैं। तो अगर आप भी जानते हैं तो आगे जानें नाग पंचमी से जुड़ी पौराणिक कथा। 
PunjabKesari Nag Panchami, Nag Panchami Worship, Nag Panchami Pujan, Nag Panchami 2022 Date, Nag Panchami 2022, Nag panchami Story In Hindi, Sawan month, Sawan 2022, Sawan Special Festivals, Festivals Of Sawan Month, Dharm
बता दें हमारे शास्त्रों में तथा समाज में एक ही पर्व को लेकर विभिन्न प्रकार के मत व कथाएं प्रचलित हैं, नाग पंचमी को लेकर कई तरह की मान्यताएं व कथाएं प्रचलित हैं जिससे जुड़ी एक पौराणिक कथा से हम आपको अवगत करवाने जा रहे हैं- 
 

1100  रुपए मूल्य की जन्म कुंडली मुफ्त में पाएं । अपनी जन्म तिथि अपने नाम , जन्म के समय और जन्म के स्थान के साथ हमें 96189-89025 पर वाट्स ऐप करें

PunjabKesari
नाग पंचमी से जुड़ी पौराणिक कथा-
किसी राज्य में एक किसान रहता था। वह बहुत मेहनती था। उसके दो पुत्र और एक पुत्री थी। परिवार का पालन पोषण करने के लिए वह हल जोतता था। एक दिन गलती से हल जोतते समय उससे नागिन के तीन बच्चे कुचले गए। जब नागिन ने यह देखा तो वह रोने लगी और उसे बहुत क्रोध आया, तब उसने अपने बच्चों के हत्यारे से बदला लेने के बारे में सोचा। उसके बाद रात को वह नागिन किसान से बदला लेने के लिए उसके घर पहुंची और वहां जाकर उसने किसान, दोनों पुत्र और उसकी पत्नि को डस लिया।
PunjabKesari Nag Panchami, Nag Panchami Worship, Nag Panchami Pujan, Nag Panchami 2022 Date, Nag Panchami 2022, Nag panchami Story In Hindi, Sawan month, Sawan 2022, Sawan Special Festivals, Festivals Of Sawan Month, Dharm

अगले दिन नागिन किसान की बेटी को डसने के लिए किसान के घर पहुंची तो वहां जाकर उसने जो देखा, उसकी हैरानी की कोई सीमा नहीं रही। असल में किसान की बेटी नें नागिन के सामने दूध का कटोरा रख दिया और नागिन से हाथ जोड़कर माफी मांगी। किसान की बेटी का यह व्यवहार देख कर नागिन प्रसन्न हुई और उसने किसान के परिवार को फिर से जीवित कर दिया। ऐसा कहा जाता है कि जिस दिन ये घटना हुई उस दिन श्रावण शुक्ल पंचमी थी, जिसके चलते इस दिन को नाग पंचमी के रूप में जाना जाने लगा और नाग देवता व नागों की पूजा का आरंभ हुआ।

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!