जियो से हो रहा मोह भंग, फरवरी में घटे 36.60 लाख ग्राहक

Edited By jyoti choudhary,Updated: 19 Apr, 2022 06:11 PM

disillusionment with jio 36 60 lakh subscribers decreased in february

अरबपति मुकेश अंबानी की दूरसंचार कंपनी रिलायंस जियो से अब उपभोक्ताओं का मोह भंग हो गया है क्योंकि इसकी सेवाओं से लोग लगातार किनारा कर रहे हैं। इस वर्ष फरवरी में भारती एयरटेल एक मात्र ऐसी कंपनी रही जो 15.91 लाख ग्राहकों को जोड़ने में सफल रही जबकि...

बिजनेस डेस्कः अरबपति मुकेश अंबानी की दूरसंचार कंपनी रिलायंस जियो से अब उपभोक्ताओं का मोह भंग हो गया है क्योंकि इसकी सेवाओं से लोग लगातार किनारा कर रहे हैं। इस वर्ष फरवरी में भारती एयरटेल एक मात्र ऐसी कंपनी रही जो 15.91 लाख ग्राहकों को जोड़ने में सफल रही जबकि रिलायंस जियो से 36.60 लाख ग्राहकों ने नाता तोड़ लिया।

दूरसंचार नियामक ट्राई द्वारा आज जारी मासिक आंकड़ों के अनुसार इस वर्ष फरवरी में रिलायंस जियो के ग्राहकों की संख्या 3660133 घट गई जबकि एयरटेल के ग्राहकों की संख्यां 1591821 बढ़ गई। इसके साथ ही वोडाफोन आइडिया के ग्राहकों की संख्या भी 1532189 घट गई। इस तरह से फरवरी में कुल मिलाकर देश में मोबाइल उपभोक्ताओं की संख्या जनवरी की तुलना में 3717352 घटकर 114.15 करोड़ पर आ गई। इस तरह से जनवरी 2022 की तुलना में फरवरी में ग्राहकों की संख्या में 0.32 प्रतिशत की कमी आई है। फरवरी में 91.6 लाख उपभोक्ताओं ने अपने ऑपरेटर बदलने के लिए भी आवेदन किया। अब तक कुल 67 करोड़ से अधिक उपभोक्ता अपने ऑपरेटरों को बदल चुके हैं। 

बड़े शहरों में सबसे अधिक उपभोक्ता तेजी से अपने ऑपरेटर बदल रहे हैं। छोड़ने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है। फरवरी में ग्राहकों की संख्या में घटबढ़ होने के बाद रिलायंस जियो की वायरलेस बाजार हिस्सेदारी भी 35.49 प्रतिशत से घटकर 35.28 प्रतिशत पर आ गई जबकि एयरटेल की हिस्सेदारी बढ़कर 31.37 प्रतिशत हो गई। वोडाफोन आइडिया की हिस्सेदारी घटकर 23.09 प्रतिशत, बीएसएनएल की 9.98 प्रतिशत, एमटीएनएल की 0.28 प्रतिशत और रिलायंस कम्युनिकेशंस की हिस्सेदारी 0.0003 प्रतिशत पर आ गई है। 

फरवरी में देश में टेलीफोन धारकों की संख्या में बढोतरी दर्ज की गई है। जनवरी की तुलना में फरवरी में इसके ग्राहकों की संख्या 1.27 प्रतिशत बढ़कर 2.45 करोड़ हो गई है। इस तरह देश में फोनधारकों की संख्या फरवरी में पिछले महीने की तुलना में 0.29 प्रतिशत घटकर 116.60 करोड़ पर आ गई। 
 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!