भारत के मसाला एक्सपोर्ट ने तोड़ा रिकॉर्ड, लाल मिर्च का रहा जलवा

Edited By jyoti choudhary,Updated: 18 Jun, 2024 04:44 PM

india s spice export broke record red chilli dominated

भारत ने वित्त वर्ष 2023-24 में मसालों और उसके उत्पादों के निर्यात (एक्सपोर्ट)का रिकॉर्ड बना दिया है। मसाला निर्यात रिकॉर्ड 4.46 बिलियन डॉलर पर पहुंच गया, जो अब तक के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया है। इसके साथ ही भारत वैश्विक व्यापार में एक प्रमुख खिलाड़ी...

बिजनेस डेस्कः भारत ने वित्त वर्ष 2023-24 में मसालों और उसके उत्पादों के निर्यात (एक्सपोर्ट)का रिकॉर्ड बना दिया है। मसाला निर्यात रिकॉर्ड 4.46 बिलियन डॉलर पर पहुंच गया, जो अब तक के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया है। इसके साथ ही भारत वैश्विक व्यापार में एक प्रमुख खिलाड़ी बन गया है।

यह बढ़ौतरी मात्रा में उछाल और काली मिर्च, इलायची और हल्दी जैसी कुछ किस्मों के लिए उच्च कीमतों के कारण देखी गई। IANS की खबर के मुताबिक, वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय के तहत मसाला बोर्ड के लेटेस्ट आंकड़ों के मुताबिक, वित्त वर्ष 2023-24 के दौरान देश से मसालों/मसाला उत्पादों का निर्यात 36,958.80 करोड़ रुपए (4.46 बिलियन डॉलर) मूल्य का 15,39,692 टन रहा है।

लाल मिर्च का निर्यात 15% अधिक

खबर के मुताबिक, लाल मिर्च का निर्यात वित्त वर्ष 2024 में रिकॉर्ड 1.5 बिलियन डॉलर पर पहुंच गया, जो पिछले वर्ष के 1.3 बिलियन डॉलर से 15 प्रतिशत अधिक है, जो चीन और बांग्लादेश से मजबूत मांग से प्रेरित है। मसाला बोर्ड के आंकड़ों के अनुसार, वित्त वर्ष 2024 में लाल मिर्च का निर्यात मात्रा पिछले वर्ष के 5.24 लाख टन से 15 प्रतिशत बढ़कर 6.01 लाख टन हो गई। 1.5 बिलियन डॉलर मूल्य की लाल मिर्च का निर्यात भारत के कुल मसाला निर्यात का लगभग 34 प्रतिशत है।

चीन भारतीय लाल मिर्च का शीर्ष आयातक

केडिया एडवाइजरी के मुताबिक, वित्त वर्ष 24 में चीन भारतीय लाल मिर्च का शीर्ष आयातक था, जिसने 4,123 करोड़ रुपए मूल्य की 1.79 लाख टन से अधिक की खरीद की। यह वित्त वर्ष 23 में 3,408 करोड़ रुपए मूल्य के 1.57 लाख टन से मात्रा में 14 प्रतिशत और मूल्य में 21 प्रतिशत की वृद्धि दर्शाता है। बांग्लादेश को मिर्च का निर्यात वित्त वर्ष 24 में 67 प्रतिशत बढ़कर 90,570 टन पर पहुंच गया, जो पिछले वर्ष 53,986 टन था।

केडिया एडवाइजरी ने कहा कि भारत का लाल मिर्च निर्यात वित्त वर्ष 24 में अभूतपूर्व ऊंचाइयों पर पहुंच गया है, जो प्रमुख आयातक देशों की बढ़ती मांग से प्रेरित है। निर्यात में वृद्धि, विशेष रूप से चीन और बांग्लादेश को, दुनिया भर में भारतीय मसालों के लिए बढ़ती मान्यता और पसंद को दर्शाती है।

Related Story

    Afghanistan

    134/10

    20.0

    India

    181/8

    20.0

    India win by 47 runs

    RR 6.70
    img title
    img title

    Be on the top of everything happening around the world.

    Try Premium Service.

    Subscribe Now!