सैन्य तख्तापलट के बाद पहली बार म्यांमार यात्रा पर आए चीन के विदेश मंत्री

Edited By Tanuja,Updated: 03 Jul, 2022 03:15 PM

china s top diplomat makes first trip to myanmar since coup

चीन के शीर्ष राजनयिक म्यांमा में पिछले साल हुए सैन्य तख्तापलट के बाद से शनिवार को पहली यात्रा पर आए। वह एक क्षेत्रीय बैठक में शामिल...

इंटरनेशनल डेस्कः चीन के शीर्ष राजनयिक म्यांमा में पिछले साल हुए सैन्य तख्तापलट के बाद से शनिवार को पहली यात्रा पर आए। वह एक क्षेत्रीय बैठक में शामिल होने आए हैं, जिसे सरकार ने अपनी वैधता की मान्यता बताया है। वहीं, विरोधियों ने शांति प्रयासों के उल्लंघन के तौर पर इसका विरोध किया है। चीन के विदेश मंत्री वांग यी यूनेस्को विश्व धरोहर स्थल बगान में लंकांग-मीकांग सहयोग समूह की बैठक में म्यांमा, लाओस, थाईलैंड, कम्बोडिया और वियतनाम के अपने समकक्षों से मुलाकात करेंगे। यह समूह चीन की अगुवाई वाली पहल है, जिसमें मीकांग डेल्टा के देश शामिल है।

 

यह हाइड्रोइलेक्ट्रिक परियोजनाओं की बढ़ती संख्या के कारण क्षेत्रीय तनाव का एक संभावित स्रोत है। इन परियोजनाओं से नदियों के प्रवाह में बदलाव आ रहा है और पारिस्थितिकी को नुकसान पहुंचने की चिंताएं व्यक्त की जा रही है। चीन ने मीकांग के ऊपरी क्षेत्र में 10 बांध बनाए हैं। इस हिस्से को वह लंकांग बुलाता है। सैन्य सरकार के प्रवक्ता मेजर जनरल जॉ मिन तुन ने राजधानी नेपीता में शुक्रवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा कि बैठक में विदेश मंत्रियों की उपस्थिति म्यांमा की संप्रभुत्ता और उसकी सरकार की मान्यता है। उन्होंने कहा कि मंत्री समझौतों ज्ञापन पर हस्ताक्षर करेंगे। उन्होंने विस्तार से जानकारी नहीं दी। अभी यह स्पष्ट नहीं है कि क्या वांग सैन्य सरकार के प्रमुख वरिष्ठ जनरल मिन आंग हेइंग से मुलाकात करेंगे।

 

गौरतलब है कि चीन, म्यांमा का सबसे बड़ा व्यापारिक साझेदार और पुराना सहयोगी है। बीजिंग ने म्यांमा की खदानों, तेल और गैस पाइपलाइनों तथा अन्य बुनियादी ढांचों में अरबों रुपये का निवेश किया है और वह रूस के साथ उसका हथियारों का प्रमुख आपूर्तिकर्ता है। म्यांमा में कई लोगों को संदेह है कि चीन सैन्य तख्तापलट का समर्थन कर रहा है और बीजिंग ने सेना द्वारा सत्ता परिवर्तन की निंदा करने से इनकार कर दिया है। वहीं, चीन का कहना है कि वह अन्य देशों के मामलों में हस्तक्षेप न करने की नीति का पालन करता है। 

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!