रूस से तेल आयात 50 गुना बढ़ा, कुल आयात में 10 प्रतिशत हिस्सेदारी हुई

Edited By Pardeep, Updated: 23 Jun, 2022 09:58 PM

oil imports from russia increased 50 times

भारत के रूस से कच्चे तेल का आयात अप्रैल से अब तक 50 गुना से अधिक बढ़ गया है और कुल आयातित तेल में इसकी हिस्सेदारी बढ़कर 10 प्रतिशत हो गई है। एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने बृहस्पतिवार

नई दिल्लीः भारत के रूस से कच्चे तेल का आयात अप्रैल से अब तक 50 गुना से अधिक बढ़ गया है और कुल आयातित तेल में इसकी हिस्सेदारी बढ़कर 10 प्रतिशत हो गई है। एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी।

यूक्रेन-रूस युद्ध से पहले भारत द्वारा आयात किए जाने वाले तेल में रूस की हिस्सेदारी सिर्फ 0.2 प्रतिशत थी। एक अधिकारी ने यहां मीडिया से कहा, ‘‘अप्रैल में भारत के तेल आयात में रूस की 10 प्रतिशत हिस्सेदारी है। यह अब शीर्ष 10 आपूर्तिकर्ताओं में से एक है।'' 

रूसी तेल का 40 प्रतिशत निजी कंपनियों - रिलायंस इंडस्ट्रीज और नायरा एनर्जी ने खरीदा है। पिछले महीने भारत के दूसरे सबसे बड़े तेल आपूर्तिकर्ता के रूप में रूस ने सऊदी अरब को पीछे छोड़ दिया। रूस ने भारत को भारी छूट के साथ कच्चे तेल की पेशकश की है। भारतीय रिफाइनरी कंपनियों ने मई में करीब 2.5 करोड़ बैरल रूसी तेल खरीदा। 

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!