एेसा करने से कम हो सकता है भारत-पाक के बीच का तनाव,अजीज ने बताया ये रास्ता

  • एेसा करने से कम हो सकता है भारत-पाक के बीच का तनाव,अजीज ने बताया ये रास्ता
You Are HerePakistan
Wednesday, November 16, 2016-11:00 AM

इस्लामाबाद:पाकिस्तान ने भारत में होने वाले हार्ट ऑफ एशिया कांफ्रेंस में शामिल होने की योजना बनाए जाने का संकेत देते हुए आज कहा कि यह दौरा दोनों परमाणु संपन्न देशों के बीच तनाव समाप्त करने में सहायक हो सकता है।पाकिस्तान के उच्चाधिकारियों ने आज यह जानकारी दी।


उरी हमले के बाद सरताज का पहला भारत दौरा
गत सितंबर में जम्मू-कश्मीर के उरी में भारतीय सेना के ठिकाने पर पाकिस्तानी आतंकवादियों के हमले में19 सैनिकों के शहीद होने की घटना के बाद प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज का यह पहला भारत दौरा होगा।इस घटना के बाद भारत-पाकिस्तान के राजनयिक संबंधों में तल्खी आ गई थी और दोनों देशों ने एक दूसरे के राजनयिकों पर जासूसी करने का आरोप लगाते हुए उन्हें स्वदेश लौटा दिया। 


तनाव कम करने का अच्छा अवसर: अजीज
अजीज ने मीडिया से कहा कि दोनों देशों के बीच तनाव घटाने का यह एक अच्छा अवसर है।अजीज ने कहा कि दोनों देशों के बीच संभावित नर्मी के संकेतों के बावजूद भारतीय अधिकारियों के साथ अभी कोई औपचारिक बैठक नहीं रखी गई है।उन्होंने कहा ,कुछ कहना जल्दबाजी होगी।सब कुछ स्थिति पर निर्भर है।अफगनिस्तान पर केंद्रित हार्ट ऑफ एशिया कांफ्रेंस का आयोजन भारत के पश्चिमोत्तर शहर और पाकिस्तानी सीमा के करीब अमृतसर शहर में दिसंबर के पहले सप्ताह में किया जा रहा है,जिससे दोनों देशों के बीच का तनाव कम हो सकता हैं। कांफ्रेंस का मकसद अफगानिस्तान में सुरक्षा स्थिति बेहतर बनाने और शांति स्थापित करने के रास्ते तलाशना है।अजीज ने कहा, हार्ट ऑफ एशिया अफगानिस्तान के लिए है और अफगानिस्तान हमारी प्राथमिकता है।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You