UPI के जरिए भुगतान लगातार दूसरे महीने 10 लाख करोड़ रुपए के पार

Edited By jyoti choudhary,Updated: 02 Jul, 2022 10:47 AM

payment through upi crosses rs 10 lakh crore for the second consecutive month

यूपीआई (यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस) आधारित डिजिटल भुगतान लगातार दूसरे महीने जून में 10 लाख करोड़ रुपए से ऊपर रहा। भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (एनपीसीआई) की तरफ से जारी आंकड़ों के अनुसार यह पिछले महीने के मुकाबले करीब तीन प्रतिशत कम है।

बिजनेस डेस्कः यूपीआई (यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस) आधारित डिजिटल भुगतान लगातार दूसरे महीने जून में 10 लाख करोड़ रुपए से ऊपर रहा। भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (एनपीसीआई) की तरफ से जारी आंकड़ों के अनुसार यह पिछले महीने के मुकाबले करीब तीन प्रतिशत कम है। आंकड़ों के अनुसार यूपीआई (या भीम यूपीआई) आधारित डिजिटल भुगतान जून 2022 में 10,14,384 करोड़ रुपए रहा। यह पिछले महीने के मुकाबले 2.6 प्रतिशत कम है। कुल मिलाकर माह के दौरान यूपीआई आधारित 5.86 अरब लेन-देन हुए। मई में कुल 5.95 अरब लेन-देन के जरिए 10,41,506 करोड़ रुपए के भुगतान हुए थे। वहीं अप्रैल में यूपीआई आधारित 5.58 अरब लेन-देन के जरिए 9,83,302 करोड़ रुपए के भुगतान हुए। 

यूपीआई ट्रांजैक्शन ने दिसंबर 2018 में 1 लाख करोड़ रुपए के आंकड़े को पार किया था। भुगतान के वॉल्यूम और वैल्यू में लगातार बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। NPCI ने अगले तीन से पांच सालों में 100 करोड़ ट्रांजैक्शन प्रति दिन का लक्ष्य रखा है। पिछले दो साल का रिकॉर्ड देखें, तो कोरोना महामारी ने डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा दिया है और लोग यूपीआई पेमेंट ऐप पर अधिक भरोसा कर रहे हैं।

कैश के प्रति लोगों का रुझान घटा 
पेटीएम, गूगल पे, फोन जैसे यूपीआई ऐप में लोगों की दिलचस्पी बढ़ी है और कैश के प्रति लोगों के रुझान घटे हैं। वित्तीय वर्ष 2022 में यूपीआई से 46 अरब ट्रांजैक्शन प्रोसेस हुए जिसकी राशि 84.17 ट्रिलियन या 84.17 लाख करोड़ रुपए की रही।
 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!