अफगानिस्तान में भूख से मर रहे 2.30 करोड़ लोग, संयुक्त राष्ट्र ने हालात पर जताई चिंता

Edited By Tanuja,Updated: 07 Apr, 2022 04:14 PM

un expresses concern over economic situation of afghan people

संयुक्त राष्ट्र ने तालिबान के सत्ता में आने के बाद अफगान लोगों की दयनीय आर्थिक स्थिति पर चिंता व्यक्त की है। संयुक्त राष्ट्र ने  विकास कार्यक्रम (UNDP)...

काबुल: संयुक्त राष्ट्र ने तालिबान के सत्ता में आने के बाद अफगान लोगों की दयनीय आर्थिक स्थिति पर चिंता व्यक्त की है। संयुक्त राष्ट्र ने  विकास कार्यक्रम (UNDP) में कहा कि अफगानिस्तान में लाखों लोग आर्थिक चुनौतियों का सामना कर रहे हैं। संयुक्त राष्ट्र के आंकड़ों के अनुसार अफगानिस्तान में इस समय 23 मिलियन यानि 2 करोड़ 30 लाख लोग भूख से मर रहे हैं और 95 प्रतिशत अफगानों के पास 24 घंटे में तीन बार खाने के लिए पर्याप्त भोजन नहीं है।

 

संयुक्त राष्ट्र ने कहा कि लाखों अफगानी लोग आज आर्थिक पतन के कगार पर हैं इसलिए हमें लोगों की आजीविका पर ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता है। संयुक्त राष्ट्र ने आह्वान किया कि अगर दुनिया अफगानिस्तान में मानवीय संकट को कम करना चाहती है तो आजीविका पर काम करना होगा।  अफगानिस्तान में UNDP निवासी प्रतिनिधि अब्दुल्ला अल दरदारी ने टोलो न्यूज को बताया कि वह अफगानिस्तान को मानवीय सहायता को पर्याप्त नहीं मानते हैं और इस बात पर जोर देते हैं कि आर्थिक विकास के बिना अफगानिस्तान स्थिर नहीं होगा।

 
टोलो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, अफगानिस्तान में UNDP के प्रमुख ने कहा कि संगठन लोगों की जीवन यापन की जरूरतों को पूरा करने के लिए काम कर रहा है। इस बीच, ट्विटर पर विश्व खाद्य कार्यक्रम (WFP) ने अफगानिस्तान को मानवीय सहायता जारी रखने की घोषणा की। टोलो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार,  WFP द्वारा अफगानिस्तान में जरूरतमंद लोगों की मदद जारी  है और अकेले बदख्शां में 900,000 लोगों की मदद की है। 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!