भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष नड्डा और गृहमंत्री शाह जयपुर पहुंचे, चुनावी बैठकों में लेंगे हिस्सा

Edited By Parveen Kumar,Updated: 27 Sep, 2023 09:03 PM

bjp national president nadda and home minister shah reached jaipur

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह बुधवार शाम जयपुर पहुंचे।

नेशनल डेस्क: भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह बुधवार शाम जयपुर पहुंचे। ये दोनों नेता राज्य में आगामी विधानसभा चुनाव से जुड़े मुद्दों पर चर्चा करने के लिए पार्टी संगठन की बैठक करने आए हैं। पार्टी के सूत्रों ने इसकी जानकारी दी। पार्टी सूत्रों के अनुसार दोनों नेता भाजपा की राज्य कोर कमेटी की बैठक करेंगे, जिसमें टिकट वितरण, चुनाव रणनीति, प्रचार जैसे विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की जाएगी।

वे कुछ दिन पहले समाप्त हुई चार परिवर्तन यात्राओं के बारे में भी फीडबैक लेंगे। दोनों नेता बुधवार शाम जयपुर हवाई अड्डे पर पहुंचे जहां पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सीपी जोशी, केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह, राष्ट्रीय प्रवक्ता राज्यवर्धन सिंह राठौड़ एवं अन्य राज्य नेताओं ने उनका स्वागत किया। नड्डा और शाह बृहस्पतिवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के पदाधिकारियों से मुलाकात करेंगे।

पार्टी सूत्रों ने बताया, “भाजपा राज्य कोर कमेटी की बैठक आज रात एक होटल में होगी। बैठक में दोनों नेता आगामी विधानसभा चुनाव में टिकट वितरण और राज्य के राजनीतिक समीकरणों पर चर्चा करेंगे। बैठक में भाजपा की हाल ही में संपन्न परिवर्तन यात्रा के दौरान मिले फीडबैक पर भी चर्चा की जाएगी।'' उल्लेखनीय है कि भाजपा के ये दो दिग्गज नेता ऐसे समय में जयपुर आए हैं जबकि सोमवार को ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जयपुर के पास जनसभा को संबोधित किया था।

भाजपा अपनी परिवर्तन यात्राओं के पूरा होने के बाद किसानों, युवाओं और महिलाओं के मुद्दों को छूने के लिए विभिन्न गतिविधियों की योजना बना रही है। अन्य राज्यों के पार्टी नेता भी आने वाले दिनों में चुनावी राज्य के विभिन्न हिस्सों का दौरा करेंगे। पार्टी राजस्थान में अपनी चुनावी रणनीति मुख्य रूप से महिलाओं और दलितों के खिलाफ अपराध, पेपर लीक, भ्रष्टाचार और हिंदुत्व जैसे मुद्दों पर केंद्रित कर रही है।

मोदी ने सोमवार को अपनी जनसभा में इन मुद्दों पर अशोक गहलोत के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार पर भी हमला किया। बैठक में मोदी ने यह भी साफ किया कि इस साल के आखिर में होने वाला विधानसभा चुनाव 'कमल' के निशान पर लड़ा जाएगा। इससे संकेत मिलता है कि पार्टी किसी भी स्थानीय नेता को आगे नहीं करेगी और पार्टी संगठन ही सर्वोच्च रहेगा। इस बीच, पार्टी सूत्रों ने कहा कि उम्मीदवारों की पहली सूची लगभग तैयार है और जल्द ही इसे अंतिम रूप दे दिया जाएगा, इस बार पार्टी कुछ मौजूदा सांसदों को भी विधानसभा चुनाव में उतार सकती है।

सूत्रों ने बताया कि केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत और अर्जुन राम मेघवाल के विधानसभा चुनाव लड़ने की संभावना है। दूसरी ओर, नड्डा और शाह के दौरे से कुछ घंटे पहले, विधानसभा की अजमेर दक्षिण सीट के इलाके की महिलाओं सहित कुछ लोगों ने मौजूदा विधायक अनिता भदेल के खिलाफ यहां पार्टी कार्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन किया और धरना दिया।

उन्होंने विधायक के खिलाफ नाराजगी जताते हुए पार्टी से मांग की है कि चार बार की विधायक भदेल का टिकट काटा जाए और किसी और को पार्टी प्रत्याशी के तौर पर चुनाव लड़ने का मौका दिया जाए। अजमेर से अन्य लोगों के साथ आए श्रवण कुमार ने संवाददाताओं से कहा, “विधायक ने ऐसा कुछ भी उल्लेखनीय कार्य नहीं किया है जिससे वोट मिलें। विधायक के खिलाफ पार्टी कार्यकर्ताओं में नाराजगी है और उन्हें आगामी विधानसभा चुनाव के लिए टिकट नहीं दिया जाना चाहिए।”

Related Story

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!