राजस्थानः सचिन की ताजपोशी से पहले गहलोत का 'गेम', 92 विधायकों ने दिया इस्तीफा

Edited By Umakant yadav,Updated: 25 Sep, 2022 10:02 PM

rajasthan gehlot s game in sachin s coronation 92 mlas resign

राजस्थान में नाटकीय घटनाक्रम में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के वफादार विधायकों ने अपने इस्तीफे सौंपने के लिए रविवार रात विधानसभा अध्यक्ष डॉ सी पी जोशी के निवास जाने का फैसला किया

नेशनल डेस्कः राजस्थान में नाटकीय घटनाक्रम में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के वफादार विधायकों ने अपने इस्तीफे सौंपने के लिए रविवार रात विधानसभा अध्यक्ष डॉ सी पी जोशी के निवास जाने का फैसला किया। यह घटनाक्रम ऐसे वक्त हुआ है जब विधायक दल की बैठक में गहलोत के उत्तराधिकारी को चुनने की संभावना है। स्थिति से मुख्यमंत्री और सचिन पायलट के बीच सत्ता को लेकर संघर्ष गहराने का संकेत मिल रहा है।

गहलोत कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ेंगे इसलिए उनके उत्तराधिकारी को चुने जाने की चर्चा है। कांग्रेस पर्यवेक्षक मल्लिकार्जुन खड़गे और अजय माकन, गहलोत के साथ मुख्यमंत्री निवास पहुंचे जहां कांग्रेस विधायक दल की बैठक होने वाली है। पायलट भी वहां पहुंचे।

सूत्रों ने बताया कि वहां करीब 25 विधायक मौजूद थे। हालांकि, मुख्यमंत्री के वफादार विधायकों के एक बड़े समूह ने मंत्री शांति धारीवाल के निवास पर बैठक की और अपना इस्तीफा सौंपने के लिए अध्यक्ष सी पी जोशी के निवास पर जाने का फैसला किया। राज्य के मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘हम बस से विधानसभा अध्यक्ष के निवास जा रहे हैं और अपना इस्तीफा सौंपेंगे।''

सूत्रों ने दावा किया कि समूह में निर्दलीय समेत करीब 80 विधायक हैं। इनमें से कुछ विधायकों ने परोक्ष रूप से पायलट का हवाला देते हुए कहा कि गहलोत का उत्तराधिकारी कोई ऐसा होना चाहिए जिन्होंने 2020 में राजनीतिक संकट के दौरान सरकार को बचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई, न कि कोई ऐसा जो इसे गिराने के प्रयास में शामिल था। पार्टी के एक अन्य नेता गोविंद राम मेघवाल ने कहा कि गहलोत मुख्यमंत्री और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष दोनों की भूमिका निभा सकते हैं।

खाचरियावास ने कहा कि विधायक चाहते हैं कि पार्टी आलाकमान उनकी बात सुनकर ही राज्‍य में नेतृत्‍व परिवर्तन के बारे में कोई फैसला करे। कांग्रेस विधायक दल की बैठक के लिए दिल्‍ली से आए पर्यवेक्षक खड़गे व माकन रविवार रात मुख्‍यमंत्री निवास पर पहुंचे। इससे पहले मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत उस होटल गए जहां ये दोनों पर्यवेक्षक रुके थे। वहां इन नेताओं में लंबी बैठक हुई। इसके बाद ये नेता व कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा मुख्‍यमंत्री निवास लौटे। पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट भी मुख्‍यमंत्री निवास पहुंचे। विधायक दल की बैठक शाम सात बजे होनी थी लेकिन यह रात साढ़े नौ बजे तक शुरू नहीं हो पाई।

Related Story

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!