Maa Dhumavati Jayanti: कर्ज और शत्रुओं को देनी है मात तो आज करें ये काम

Edited By Niyati Bhandari, Updated: 08 Jun, 2022 08:29 AM

maa dhumavati jayanti

मां धूमावती को 10 महाविद्याओं में अंतिम विद्या माना जाता है और हमारे शास्त्रों में इसे देवी पार्वती के स्वरूप की संज्ञा दी गई है। यह पहली ऐसी देवी हैं, जिन्हें देेवी का विधवा स्वरूप भी इसी रूप से माना जाता है और

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ

Maa Dhumavati Jayanti: मां धूमावती को 10 महाविद्याओं में अंतिम विद्या माना जाता है और हमारे शास्त्रों में इसे देवी पार्वती के स्वरूप की संज्ञा दी गई है। यह पहली ऐसी देवी हैं, जिन्हें देेवी का विधवा स्वरूप भी इसी रूप से माना जाता है और हर साल ज्येष्ठ माह के शुक्ल पक्ष की अष्टमी के दिन उनकी जयंती मनाई जाती है। इस दिन सामूहिक व्रत, अनुष्ठान और धूमावती देवी स्रोत, पाठ व विशेष मंत्रों का जाप भी किया जाता है। ऐसी मान्यता भी हैै कि इस दिन सुहागन महिलाएं मां धूमावती का पूजन करने की बजाय अगर दूर से ही देवी के दर्शन करती हैं तो उन्हें जीवन में किसी चीज की कमी नहीं रहती। 

PunjabKesari Maa Dhumavati Jayanti

इस बार बुधवार, 8 जून यानि आज दुर्गा अष्टमी व मां धूमावती जयंती है। ऐसी मान्यता भी है कि इस दिन काले वस्त्र में काले तिल बांधकर मां धूमावती को चढ़ाने से व्यक्ति की सभी इच्छाएं पूर्ण होती हैं और

PunjabKesari Maa Dhumavati Jayanti

अगर पूरे विधि-विधान के साथ देवी के इस स्वरूप की पूजा की जाए तो मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है। मनुष्य के समस्त पापों का नाश होता है और दुख दारिद्र्य दूर होते हैं। कहा जाता है कि इस दिन सुबह स्नान आदि से निवृत्त होकर जल पुष्प, कुमकुम, अक्षत, फल,  धूप, सिंदूर व नैवेद्य आदि से मां का पूजन करें तो जीवन में किसी चीज की कमी नहीं रहती और धूमावती कवच शत्रु भय तथा कर्ज से भी मुक्ति दिलाता है।

भले ही देखने में मां धूमावती का स्वरूप उग्र और भयंकर दिखता है लेकिन भक्तों के लिए सचमुच में यह कल्याणकारी मां है और इनके दर्शन मात्र से ही मनोवांछित फल प्राप्त होता है। मां धूमावती पापियों को दंड देने और संहार करने की क्षमता तो रखती ही हैं, साथ ही अपने भक्तों पर कभी कष्ट नहीं आने देती।

मां भगवती देवी का मंत्र - ॐ धूम धूम धूमावती फट् का जाप करने से जहां कामनाएं पूरी होती हैं, वही विरोधी भी पस्त होते हैं।

PunjabKesari Maa Dhumavati
गुरमीत बेदी
gurmitbedi@gmail.com   

PunjabKesari Maa Dhumavati Jayanti

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!