मध्य प्रदेशः विधायक दल की बैठक से पहले भोपाल में हलचल तेज, सीएम शिवराज से मिले कैलाश विजयवर्गीय

Edited By Yaspal,Updated: 10 Dec, 2023 08:03 PM

before the meeting of the legislative party stir intensifies in bhopal

मध्य प्रदेश में सोमवार को होने वाली बीजेपी विधायक दल की बैठक से पहले भोपाल में हलचल तेज हो गई है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से रविवार को कैलाश विजयवर्गीय ने मुलाकात की। इस मुलाकात के बाद अटकलों का दौर शुरू हो गया है

नेशनल डेस्कः मध्य प्रदेश में सोमवार को होने वाली बीजेपी विधायक दल की बैठक से पहले भोपाल में हलचल तेज हो गई है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से रविवार को कैलाश विजयवर्गीय ने मुलाकात की। इस मुलाकात के बाद अटकलों का दौर शुरू हो गया है। बता दें कि 3 दिसंबर को चुनावी नतीजों में भारतीय जनता पार्टी ने प्रचंड विजय हासिल की है। भाजपा को मध्य प्रदेश में 230 विधानसभा सीटों में से 163 सीटों पर जीत हासिल हुई है।

भाजपा के नवनिर्वाचित विधायकों की महत्वपूर्ण बैठक सोमवार को भोपाल में होगी, जिसमें विधायक दल का नेता चुना जाएगा। दल का नेता ही राज्य का अगला मुख्यमंत्री होगा। केंद्रीय संगठन की ओर से नियुक्त तीनों पर्यवेक्षक हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, पार्टी के ओबीसी मोर्चा के अध्यक्ष डॉ के लक्ष्मण और राष्ट्रीय सचिव आशा लकड़ा भी मौजूद रहेंगे। इस दौरान सभी 163 नवनिर्वाचित विधायक अपना नेता चुनेंगे। बैठक में मौजूदा मुख्यमंत्री एवं बुधनी से विधायक शिवराज सिंह चौहान के अलावा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा और प्रदेश संगठन के जिम्मेदार नेता भी मौजूद रहेंगे।

इस बीच नए मुख्यमंत्री के रूप में पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं मुरैना जिले के दिमनी से नवनिर्वाचित विधायक नरेंद्र सिंह तोमर का नाम भी लिया जा रहा है। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव एवं इंदौर एक विधानसभा क्षेत्र से निर्वाचित कैलाश विजयर्गीय को भी महत्वपूर्ण दायित्व दिए जाने की संभावना है।

नरसिंहपुर विधायक एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल की दावेदारी भी सामने आई है। बैठक में पूर्व सांसद एवं सीधी से विधायक श्रीमती रीति पाठक, जबलपुर पश्चिम सीट से विधायक राकेश सिंह और गाडरवारा विधायक राव उदय प्रताप सिंह भी मौजूद रहेंगे, जो हाल में लोकसभा की सदस्यता से त्यागपत्र देकर आए हैं।

राज्य में ऐतिहासिक बहुमत हासिल करने वाली भाजपा ने कुल 230 सीटों में से 163 सीट पर विजय हासिल की है। सोमवार को विधायक दल का नेता चुने जाने के साथ ही राज्य की नयी सरकार के गठन को लेकर भी तस्वीर स्पष्ट हो जाएगी। सरकार के गठन के दौरान वर्ष 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव में राज्य की सभी 29 सीटों पर पार्टी की जीत के लक्ष्य को ध्यान में रखा जाएगा। इसके लिए जातिगत, राजनैतिक, क्षेत्रीय और अन्य समीकरणों को भी साधने की पूरी संभावना है।

Related Story

Trending Topics

India

397/4

50.0

New Zealand

327/10

48.5

India win by 70 runs

RR 7.94
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!