श्रद्धा हत्याकांड में अब होंगे बड़े खुलासे, आरोपी आफताब का पॉलीग्राफ टेस्ट शुरू

Edited By Anu Malhotra,Updated: 24 Nov, 2022 02:58 PM

shraddha murder case mehrauli forest fsl polygraph test

श्रद्धा हत्याकांड के आरोपी आफताब का आज पॉलीग्राफ टेस्ट शुरू हो गया। दिल्ली पुलिस उसे फॉरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (FSL) लेकर पहुंची है जहां उसका टेस्ट किया जा रहा है। आफताब पर आरोप है कि उसने श्रद्धा का मर्डर करने के बाद शव को ठिकाने लगाने के लिए 35...

नेशनल डेस्क: श्रद्धा वालकर की हत्या मामले में आरोपी आफताब अमीन पूनावाला की पॉलीग्राफी जांच का दूसरा सत्र बृहस्पतिवार को रोहिणी में फॉरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (FSL) में शुरू हुआ। अधिकारियों ने बताया कि बुधवार को जांच नहीं हो पायी थी क्योंकि 28 वर्षीय पूनावाला को बुखार तथा जुकाम था। एफएसएल के एक अधिकारी ने बताया, ‘‘पुलिस उसे यहां लेकर आयी और पॉलीग्राफी जांच की प्रक्रिया शुरू हो गयी है।

 इस जांच में देरी से पूनावाला की नार्को जांच में भी देरी हो गयी है। पॉलीग्राफी जांच में रक्तचाप, नब्ज और सांस की दर जैसी शारीरिक गतिविधियों को रिकॉर्ड किया जाता है और इन आंकड़ों का इस्तेमाल यह पता लगाने में किया जाता है कि व्यक्ति सच बोल रहा है या नहीं। वहीं, नार्कों जांच में व्यक्ति की आत्मचेतना को कम कर दिया जाता है ताकि वह खुलकर बोल पाए। 

गौरतलब है कि पूनावाला ने अपनी लिव-इन पार्टनर वालकर (27) की मई में कथित तौर पर गला दबाकर हत्या कर दी थी तथा उसके शव के 35 टुकड़े कर दिए थे और उन्हें करीब तीन सप्ताह तक दक्षिण दिल्ली के महरौली में अपने घर में 300 लीटर के फ्रिज में रखा था और कई दिनों तक उन्हें शहर के अलग-अलग हिस्सों में फेंका था। पूनावाला को उसके भावनात्मक, शारीरिक और मनोवैज्ञानिक स्वास्थ्य का पता लगाने के लिए कई परीक्षणों से गुजरना होगा। यदि प्रारंभिक जांच में उसे ठीक नहीं पाया जाता है तो नार्को विश्लेषण नहीं किया जा सकता है। पूनावाला की पॉलीग्राफी जांच का पहला सत्र मंगलवार को रोहिणी के एफएसएल में हुआ था। पॉलीग्राफी जांच को ‘लाई डिटेक्टर' के नाम से भी जाना जाता है।  

 क्या है पॉलीग्राफ टेस्ट 
 पॉलीग्राफ टेस्ट में व्यक्ति की धड़कन, नब्ज, सांस लेने की मूवमेंट को नोट किया जाता है और उससे संबंधित केस के सवाल पूछे जाते हैं। झूठा जवाब देने पर व्यक्ति की धड़कन, नब्ज और सांस अनियमित हो जाती हैं, इससे उसके जवाबों को सही और गलत माना जाता है।

PunjabKesari

बता दें कि बीते मंगलवार को आरोपी आफताब को जब मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट अविरल शुक्ला के सामने पेश किया गया तो इस दौरान आरोपी की  हिरासत को चार दिन के लिए और बढ़ा दिया। वहीं जब न्यायाधीश ने पूनावाला से पूछा, ‘क्या तुम जानते हो कि तुमने क्या किया है तो इस पर पूनावाला ने बेधड़क अंग्रेजी में जवाब देते हुए कहा कि यह एक हीट आफ द मूवमेंट था और उसने ‘‘इरादतन’’ ऐसा नहीं किया।


 

Related Story

Trending Topics

Pakistan

137/8

20.0

England

138/5

19.0

England win by 5 wickets

RR 6.85
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!