INTERVIEW: जबदस्त एक्शन और रोमांच से भरपूर है सुपरस्टार नानी की फिल्म 'दसरा'

Edited By Varsha Yadav,Updated: 29 Mar, 2023 03:14 PM

nani interview for his upcoming film dasara

पिछले कुछ सालों से दर्शकों में साउथ की फिल्मों को लेकर जबरदस्त क्रेज देखने को मिल रहा है। ऐसे में साउथ इंडस्ट्री के नेचुरल सुपरस्टार नानी अपनी फिल्म 'दसरा' का जोर- शोर से अलग अलग शहरों में प्रमोशन करने में लगे हुए हैं। ऐसे में एक्टर ने पंजाब...

नई दिल्ली। पिछले कुछ सालों से दर्शकों में साउथ की फिल्मों को लेकर जबरदस्त क्रेज देखने को मिल रहा है। ऐसे में साउथ इंडस्ट्री के नेचुरल सुपरस्टार नानी अपनी फिल्म 'दसरा' का जोर- शोर से अलग अलग शहरों में प्रमोशन करने में लगे हुए हैं। यह फिल्म 30 मार्च 2023 को सिनेमाघरों में दस्तक देने के लिए तैयार है। फिल्म का निर्देशन श्रीकांत ओडेला ने किया है। फिल्म में नानी के अलावा कीर्ति सुरेश, साई कुमार और शाइन टॉम चाको भी लीड रोल में नजर आ रहे हैं। 'दसरा' के ट्रेलर को काफी पॉजीटिव रिस्पॉन्स मिल रहा है, दर्शक पहली बार नानी को एक्शन अवतार में देखने के लिए काफी एक्साइटेड है। इस बारे में नानी ने पंजाब केसरी/नवोदय टाइम्स से खास बातचीत की है-

सवाल- फिल्म के प्रमोशन के दौरान कई शहरों में आप पहली बार गए ,इसका एक्सपीरियंस कैसा रहा?
जवाब-
मेरे लिए तो सबकुछ ही एकदम अलग है बहुत सी जगह जो पहले मैंने नहीं देखी थी वहां जाकर काफी अच्छा लगा, इतने सारे लोगों से मिला, सबका प्यार , सबके चेहरे पर स्माइल देखकर अंदर से मन खुश हो गया। अभी तो सिर्फ फिल्म प्रमोशन के लिए गया था तो ज्यादा रुक नहीं पाया लेकिन मुझे ऐसा लग रहा है कि मुझे ब्रेक लेकर दोबारा से यहां आना चाहिए। वैसे तो मैं काम के लिए गया था लोकिन अब मैं यहां सिर्फ एंजॉय करने के लिए आना चाहता हूं। अभी जल्दी-जल्दी के चक्कर में अच्छे से चीजें देख नहीं पाया।  

सवाल- फिल्म के ट्रेलर आपका लुक देखकर लग रहा है कि आपका किरदार कितना चैलेजिंग रहा होगा, इसके लिए आपने कैसे तैयारी की?
जवाब-
इस फिल्म में जो मेरा किरदार है वो फिजिकली और मेंटली दोनों तरीके से काफी मुश्किल था, लेकिन मुझे ऐसे काम करने में काफी मजा आता है। जिसमें मैं अपने कंफर्टेबल जॉनर को छोड़कर कुछ नया करता हूं। ऐसा इसीलिए क्योंकि इसमें मुझे काफी सारी चीजें नई सीखने को मिलती है। मुझे शूट के लिए तैयार होने में ही करीब डेढ़ से दो घंटे लगा जाते थे। फिर मेकअप को रिमूव करना भी काफी मुश्किल होता था।  



सवाल- तेलुगू फिल्म इंडस्ट्री में अपने करियर की शुरूआत करना आपके लिए कितना मुश्किल रहा ?
जवाब-
दरअसल, मणिरत्नम की फिल्मों ने मुझे फिल्मों में आने के लिए इंस्पायर किया। इसके बाद मैंने एक्टिंग की दुनिया में कदम रखा। मेरे हिसाब से लाइफ में स्ट्रगल करना भी काफी जरूरी होता है। यह लास्ट तक आपके साथ रहता है आपको याद दिलाता रहता है कि आपने कहां से कहां तक का सफर तय किया है और जो भी लोग सिनेमा में आना चाहते हैं और लोगों के स्ट्रगल को देखकर डिमोटिवेट हो जाते हैं उनके लिए मैं कहना चाहूंगा कि आप सिर्फ अपने गोल पर फोकस कीजिए बाकी जो भी हो रहा है वो सभी चीजें आपको आगे ले जाने की कोशिश कर रही होती हैं। क्योंकि जब मैं असिस्टेंट डायरेक्टर था तब भी मैं अपने काम को एंजॉय करता था। अगले दिन शूट पर जाने के लिए काफी एक्साइटेड रहता था, जल्दी उठ जाता था। अगर आप सिर्फ अच्छी चीज के इंतजार में ही बैठे रहेंगे तो आप आज जो काम कर रहे हैं उसमें भी आपका मन नहीं लगेगा। आप जो भी आज कर रहे हैं एंजॉय करते हुए करें, अपने आप पर पूरा भरोसा रखें, खुद से प्यार करें और अपने सपने को सच करने के लिए काम करते रहें। लेकिन जब मेहनती और टेलेंटेड लोगों को काम नहीं मिलता तो मैं भी डिमोटिवेट हो जाता हूं।


सवाल- दूसरों के स्ट्रगल करने को लेकर आपकी क्या अप्रोच हैं?
जवाब-
मान लीजिए मैं जब असिस्टेंट डायरेक्टर रहा तो किसी ने मुझे सही से ट्रीट नहीं किया फिर जब मेरे अंडर कोई काम करने आए तो मैं यह सोचूं कि मेरे साथ अच्छा व्यवहार नहीं हुआ, तो मैं भी औरों के साथ अच्छा व्यवहार नहीं करूंगा। लेकिन नहीं आपको यह नहीं सोचना है, आपकी सोच होनी चाहिए कि चलो मेरे साथ जो हुआ सो हुआ लेकिन मैं इस चीज को अपने स्तर पर ठीक करने की कोशिश करूंगा। यह कोई बड़ी बात नहीं है ,बेसिक सी चीजें है बस हमें अच्छे से इनका पालन करना चाहिए।

सवाल- 'दसरा' में आपका किरदार देखकर हर कोई सरप्राइज है आपके ऊपर अपने कैरेक्टर का कितना इम्पैक्ट पड़ा है?
जवाब-
सब कुछ काफी अच्छा था कैरेक्टर से जुड़ी सारी चीजें हम डायरेक्टर से डिसकस करते थे, घर पर तो मैं नानी ही रहता था लेकिन सेट पर पूरी तरह से कैरेक्टर में होना पड़ता था क्योंकि यह किरदार बहुत इटेंस है। कभी-कभी इसकी वजह से मैं टायर्ड भी हो जाता था, सेट पर भी काफी सीरियस माहौल रहता था, आप फिल्म के बीच में मजाक मस्ती नहीं कर सकते हैं। कुल मिलाकर कहूं तो रोमांटिक और अन्य तरह की फिल्मों के कैरेक्टर 'दसरा' के मुकाबले करना आसान रहता। मुझे स्टार्टिंग से ही पता था कि यह करना मेरे लिए मुश्किल है लेकिन ऐसी फिल्म की स्क्रिप्ट बहुत कम देखने को मिलती है। जो आपको और ज्यादा एक्सप्लोर करने में मदद करे और इस फिल्म की स्क्रिप्ट ऐसी ही थी।      

सवाल- आपकी फेवरेट बॉलीवुड फिल्म और फेवरेट एक्ट्रेस कौन है?
जवाब-
हंसते हुए नानी कहते हैं मुझे अमिताभ सर की 'अग्निपथ' बहुत पंसद है और श्रीदेवी जी मेरी फेवरेट अभिनेत्री हैं।

Related Story

Test Innings
Australia

217/3

India

Australia are 217 for 3

RR 3.65
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!