राजनीति में नया आयामः ब्रिटेन में दुनिया के पहले AI उम्मीदवार ने भी लड़ा चुनाव, हैरानीजनक रहा परिणाम

Edited By Tanuja,Updated: 06 Jul, 2024 03:44 PM

ai in politics meet world s first ai candidate contest in uk elections

ब्रिटेन के आम चुनाव में इस बार लेबर पार्टी ने प्रचंड बहुमत के साथ जीत दर्ज की है, दूसरी तरफ कंजर्वेटिव पार्टी ने सबसे खराब प्रदर्शन करते हुए सिर्फ 120...

लंदनः ब्रिटेन के आम चुनाव में इस बार लेबर पार्टी ने प्रचंड बहुमत के साथ जीत दर्ज की है, दूसरी तरफ कंजर्वेटिव पार्टी ने सबसे खराब प्रदर्शन करते हुए सिर्फ 120 सीटें जीती। हैरान कर देने वाली बात यह रही कि इस चुनाव में एक आर्टिफिशियल इंटिलिजेंस (AI) प्रत्याशी भी खड़ा हुआ था। बतौर निर्दलीय इस प्रत्याशी को ब्रिंगटन पवेलियन सीट से उतारा गया था।  अब उस सीट पर नतीजे आ गए हैं, एआई प्रत्याशी करारी हार हुई है, उसे सिर्फ 0.3 फीसदी वोट हासिल हुए। जानकारी के लिए बता दें कि इस एआई प्रत्याशी का नाम स्टीव रखा गया था जिसे उतारने का ख्याल मशहूर उद्योगपति स्टीव एंडाकौट को आया था। वे वर्तमान राजनीति से त्रस्त आ चुके थे, ऐसे में वोटर्स को एक विकल्प देने के लिए उन्होंने पहली बार एक एआई उम्मीदवार को मैदान में उतार दिया था। 

PunjabKesari

अब इस AI प्रत्याशी के पास ताकत तो कई थीं, वो एक बार में 10 हजार लोगों के साथ बात कर सकता था। लेकिन फिर भी वोटर्स के लिए यह एक्सपेरिमेंट ज्यादा ही नया रहा और इसी वजह से इसे सिरे से नकार भी दिया गया। चुनाव में इस प्रत्याशी को क्योंकि सिर्फ 179 वोट मिले हैं, यह बताने के लिए काफी है कि ब्रिटेन अभी तक इस तरह की तकनीक के लिए तैयार नहीं था। मजे की बात यह है कि अगर यह एआई प्रत्याशी चुनाव में जीत जाता तो सदन के अंदर वो नहीं बल्कि उसको बनाने वाला मालिक ही बैठता। ऐसे में इस तकनीक का इस्तेमाल तो बस प्रचार तक सीमित था। अब जानकारी के लिए बता दें कि इस बार के चुनाव में लेबर पार्टी ने सही मायनों में 400 पार कर लिया है, अभी तक जो नतीजे आए हैं, उनमें 412 सीटों पर जीत मिल चुकी है, 200 साल के इतिहास में कंजर्वेटिव अपना सबसे खराब प्रदर्शन करते हुए 120 सीटों पर सिमटती दिख रही है।

PunjabKesari

इस हार की नैतिक जिम्मेदारी खुद सुनक ने ली है और उन्होंने नए प्रधानमंत्री को बधाई भी दे दी है।  उस जीत के बाद अब ऋषि सुनक ने बतौर प्रधानमंत्री अपना आखिरी भाषण दे दिया है। उनकी तरफ से देश से माफी मांगी गई है और एक भावुक अपील भी हुई है। ऋषि सुनक ने कहा कि देश को पहले मैं सॉरी कहना चाहूंगा। मैंने इस पद पर रहते हुए अपना सबकुछ दिया, लेकिन आपके जनादेश ने साफ संदेश दिया है कि आप बदलाव चाहते थे। आपकी पसंद ही अब मायने रखती है। मैं इस हार की नैतिक जिम्मेदारी लेता हूं, इन नतीजों के बाद मैं पार्टी नेता के पद से पीछे हटता हूं। ऋषि सुनक ने इस बात का भी जिक्र किया कि उनकी पार्टी के तमाम नेता ने इस चुनाव में काफी मेहनत की थी, लेकिन उन्हें दुख है कि वे उसे जीत में तब्दील नहीं कर पाए। 

PunjabKesari

 

Related Story

Trending Topics

Afghanistan

134/10

20.0

India

181/8

20.0

India win by 47 runs

RR 6.70
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!