ऑस्ट्रेलियाई मंत्री ने चीन पर चुनाव में हस्तक्षेप का आरोप लगाया

Edited By Tanuja, Updated: 27 Apr, 2022 05:03 PM

australian minister accuses china of election interference

ऑस्ट्रेलिया की एक वरिष्ठ मंत्री ने बुधवार को आरोप लगाया कि चीन ने उनकी सरकार के पुन: निर्वाचन की संभावना को कमजोर करने के लिए जानबूझकर...

कैनबरा: ऑस्ट्रेलिया की एक वरिष्ठ मंत्री ने बुधवार को आरोप लगाया कि चीन ने उनकी सरकार के पुन: निर्वाचन की संभावना को कमजोर करने के लिए जानबूझकर चुनाव प्रचार के बीच में सोलोमन आइलैंड के साथ सुरक्षा समझौते की घोषणा की है। ऑस्ट्रेलिया की गृह मंत्री कैरेन एंड्रयूज का आरोप उनकी कंजर्वेटिव लिबरल पार्टी की इस दलील से मेल खाता है कि चीन चाहता है कि 21 मई के चुनाव में मध्य-वामपंथी लेबर पार्टी जीते क्योंकि इस पार्टी के सांसद चीन के आर्थिक दबाव का संभवत: विरोध नहीं करेंगे। 

 

लेबर पार्टी ने सरकार पर चीन और सोलोमन की सरकार द्वारा पिछले सप्ताह घोषित समझौते को रोक पाने में असमर्थ रहने का आरोप लगाते हुए इसे द्वितीय विश्व युद्ध के बाद से प्रशांत क्षेत्र में ऑस्ट्रेलिया की सबसे बड़ी विदेश नीति विफलता करार दिया था। ऑस्ट्रेलिया की प्रमुख घरेलू खुफिया एजेंसी ‘ऑस्ट्रेलियन सिक्योरिटी इंटेलीजेंस ऑर्गेनाइजेशन' का प्रभार भी संभाल रहीं एंड्रयूज ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया वासियों को सोलोमन की घोषणाओं के समय पर ध्यान देना चाहिए। 

 

उन्होंने ब्रिस्बेन रेडियो 4बीसी से कहा, ‘‘बीजिंग को स्पष्ट रूप से यह पता है कि हम इस समय यहां संघीय चुनाव का प्रचार कर रहे हैं। अभी ही क्यों? एक संघीय चुनाव के प्रचार अभियान के बीच में ही यह सब क्यों किया जा रहा है?'' एंड्रयूज ने कहा, ‘‘हम राजनीतिक दखलंदाजी की बात करते हैं और यह कई प्रकार की होती है।'' ऑस्ट्रेलिया ने 2018 में घरेलू राजनीति में गुप्त विदेशी हस्तक्षेप को प्रतिबंधित करने के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा कानून पारित करके चीन को नाराज कर दिया था। तब चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा था कि ‘‘सरकार चीन को लेकर पूर्वाग्रह रखती है और इससे चीन-ऑस्ट्रेलिया के संबंधों का माहौल विषाक्त हो गया है।''

Related Story

Trending Topics

Indian Premier League
Kolkata Knight Riders

Lucknow Super Giants

Match will be start at 18 May,2022 07:30 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!