यूक्रेनी नाजी सैनिक के सम्मान पर कनाडाई PM जस्टिन ट्रूडो ने मांगी माफी, जानें क्या है पूरा मामला

Edited By Pardeep,Updated: 28 Sep, 2023 06:08 AM

canadian pm justin trudeau apologizes for honoring ukrainian nazi soldier

हिटलर की सेना में शामिल रहे सैनिक के कनाडा की संसद में सम्मानित किए जाने के मामले में स्पीकर के इस्तीफे के बाद बुधवार को प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने माफी मांगी। उन्होंने कहा, इस गलती से संसद और कनाडा की बदनामी हुई है, उसके लिए खेद है।

इंटरनेशनल डेस्कः हिटलर की सेना में शामिल रहे सैनिक के कनाडा की संसद में सम्मानित किए जाने के मामले में स्पीकर के इस्तीफे के बाद बुधवार को प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने माफी मांगी। उन्होंने कहा, इस गलती से संसद और कनाडा की बदनामी हुई है, उसके लिए खेद है। यारोस्लाव हुंका (98) नाम का यह सैनिक द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान हिटलर की नाजी सेना की उस यूनिट में शामिल था जिसने यहूदियों और रूसी जनता पर अत्याचार किए थे। रूस ने कनाडा की संसद से नाजीवाद की निंदा करने की मांग की है।
PunjabKesari
बता दें प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने कहा था कि द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान नाजियों के लिए लड़ने वाले यूक्रेन के एक पूर्व सैनिक का कीव के नेता की यात्रा के दौरान खड़े होकर अभिवादन करना शर्मनाक है। प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने कहा कि इस तरह की घटना को स्वीकार्य नहीं किया जा सकता है।
PunjabKesari
कंजर्वेटिव नेता पियरे पोइलिवरे ने बुधवार को कहा कि नाजी इकाई के साथ लड़ने वाले एक यूक्रेनी सैनिक को संसदीय समारोह में भाग लेने के लिए निमंत्रण देना देश के इतिहास में सबसे बड़ी राजनयिक शर्मिंदगी है और वह इस घटना के लिए प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो को दोषी ठहरा रहे हैं।
PunjabKesari
पार्लियामेंट हिल पर कंजर्वेटिव कॉकस की बैठक से पहले पत्रकारों से बात करते हुए पोइलिवरे ने कहा कि ट्रूडो यूक्रेनी राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की की कनाडा यात्रा को सफल बनाने के लिए जिम्मेदार थे और इस कार्यक्रम में यारोस्‍लाव हुंका के शामिल होने से वैश्विक मंच पर कनाडा की प्रतिष्ठा खराब हुई है। 
PunjabKesari
इससे पहले कनाडा में हाउस ऑफ कॉमन्स के स्पीकर एंथनी रोट ने मंगलवार को इस्तीफा दे दिया था। दरअसल, 24 सितंबर को उन्होंने संसद में एक पूर्व नाजी सैनिक को वॉर हीरो बताकर सम्मानित किया था। हालांकि, बाद में स्पीकर ने अपनी इस गलती के लिए माफी मांग ली थी। उन्होंने कहा था कि मुझे नहीं पता था कि वो बुजुर्ग नाजी सैनिक है। मुझे अपने निर्णय पर पछतावा हो रहा है। मैं कनाडा में रह रहे यहूदी समुदाय के लोगों से माफी मांगता हूं। इस घटना के बाद से ही कनाडा की विपक्षी पार्टी स्पीकर के इस्तीफे की मांग कर रही थीं। दअरसल, नाजियों (एडोल्फ हिटलर की सेना) ने सेकेंड वर्ल्ड वॉर के दौरान 11 लाख से ज्यादा लोगों को मौत के घाट उतार दिया था। इसमें ज्यादातर यहूदी थे।

Related Story

Trending Topics

India

201/4

41.2

Australia

199/10

49.3

India win by 6 wickets

RR 4.88
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!