चारधामों की यात्रा पर जाने वालों में अबतक 39 श्रद्धालुओं की मौत, डीजी हेल्थ ने जारी किए ये निर्देश

Edited By Anu Malhotra, Updated: 16 May, 2022 11:31 AM

uttarakhand char dham yatra pilgrims died uttarakhand health department

उत्तराखंड के चारधामों की यात्रा पर जाने वाले यात्रियों में अब तक 39 तीर्थयात्रियों की मौत हो गई है। इसकी जानकारी उत्तराखंड स्वास्थ्य विभाग ने दी।  उत्तराखंड की स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ. शैलजा भट्ट ने कहा कि चार धाम यात्रा मार्ग पर अब तक 39...

देहरादून: उत्तराखंड के चारधामों की यात्रा पर जाने वाले यात्रियों में अब तक 39 तीर्थयात्रियों की मौत हो गई है। इसकी जानकारी उत्तराखंड स्वास्थ्य विभाग ने दी।  उत्तराखंड की स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ. शैलजा भट्ट ने कहा कि चार धाम यात्रा मार्ग पर अब तक 39 तीर्थयात्रियों की मौत हो चुकी है। मृत्यु का कारण उच्च रक्तचाप, हृदय संबंधी समस्याएं और पर्वतीय बीमारी रही हैं। 
 

इस बीच उन्होंने चिकित्सकीय रूप से अयोग्य तीर्थयात्रियों को यात्रा न करने की सलाह दी जा रही है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी दिशानिर्देशों में कहा गया है कि 2700 मीटर से अधिक ऊंचाई पर स्थित सभी चारों धाम- बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री में तीर्थयात्री अत्यधिक ठंड, कम आर्द्रता, अत्यधिक पराबैंगनी विकिरण, कम हवा का दबाव और ऑक्सीजन की कम मात्रा से प्रभावित हो सकते हैं, इसलिए सभी मेडिकल जांच के बाद ही अपनी यात्रा शुरू करें। 
 

नए दिशानिर्देशों के अनुसार, सिर दर्द होना, चक्कर आना, घबराहट, दिल की धड़कन तेज होना, उल्टी आना, हाथ-पांव ठंडे होना, होठों का नीला पड़ना, थकान होना, सांस फूलना, खांसी होना या अन्य लक्षण होने पर तत्काल सबसे करीब के स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचने तथा हेल्पलाइन नंबर 104 पर संपर्क करें। बता दें कि, उत्तराखंड के उच्च गढ़वाल हिमालयी क्षेत्र में स्थित चारधामों की यात्रा 3 मई को अक्षय तृतीया के पर्व से शुरू हुई थी। 
 

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!