America: मंदिर या गुरुद्वारे में तोड़फोड़ भी अमेरिका में अब माना जाएगा ‘घृणा अपराध’

Edited By Niyati Bhandari,Updated: 08 Jun, 2023 08:41 AM

america

वाशिंगटन (प.स.): अमरीका के मिशिगन राज्य में एक भारतीय-अमरीकी सांसद ने ‘घृणा अपराध’ की व्याख्या में विस्तार करने के

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ

वाशिंगटन (प.स.): अमरीका के मिशिगन राज्य में एक भारतीय-अमरीकी सांसद ने ‘घृणा अपराध’ की व्याख्या में विस्तार करने के लिए एक विधेयक पेश किया और इसमें पूजा स्थल पर तोड़फोड़ को भी शामिल किया गया है। उन्होंने दीवाली, बैसाखी, ईद-उल-फितर, ईद-अल-अजहा (बकरीद) और चंद्र नववर्ष को मिशिगन में आधिकारिक सरकारी छुट्टी के रूप में मान्यता देने के लिए भी एक विधेयक पेश किया है।

1100  रुपए मूल्य की जन्म कुंडली मुफ्त में पाएं। अपनी जन्म तिथि अपने नाम, जन्म के समय और जन्म के स्थान के साथ हमें 96189-89025 पर व्हाट्सएप करें

मिशिगन राज्य का प्रतिनिधित्व करने वाले राजीव पुरी के माता-पिता 1970 के दशक में अमृतसर से अमरीका आए थे और उनके पिता ने विस्कोंसिन में पहला सिख गुरुद्वारा स्थापित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। पुरी ने बताया कि मिशिगन में मूल घृणा अपराध विधेयक 1988 में लिखा गया था और तब से इसे अद्यतन नहीं किया गया है। 35 वर्ष हो गए हैं और इसलिए हम इसे अधिक समावेशी बनाने के उद्देश्य से व्याख्या को अद्यतन कर रहे हैं। 

उन्होंने कहा, ‘‘यदि मंदिर, मस्जिद या गुरुद्वारा जैसे धार्मिक संस्थानों में तोड़फोड़ की जाती है या उनकी बेअदबी की जाती है तो अब उन लोगों के खिलाफ अत्यंत जिम्मेदारी से मुकद्दमा चलाना बहुत आसान होने वाला है क्योंकि अब यह ‘घृणा अपराध’ में शामिल हो जाएगा।’’ 

PunjabKesari kundli

Related Story

India

Netherlands

Match will be start at 03 Oct,2023 02:00 PM

img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!